नई दिल्ली (आईएएनएस)। खेल मंत्री किरन रिजिजू ने भारतीय हॉकी ओलंपियन और 1975 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे अशोक दीवान की हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया है। अशोक दीवान इस समय अमेरिका में फंसे हुए हैं। कोरोना महामारी के चलते देश में इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर पाबंदी लगी है, इसलिए वह अभी वापस इंडिया नहीं आ सकते। खेल मंत्रालय ने बयान जारी करते हुए कहा, 'हॉकी ओलंपियन अशोक दीवान अमेरिका में फंसे हैं और अस्वस्थ हैं। वह आईओए के माध्यम से किरन रिजिजू के पास पहुंचे। इसके बाद सैन फ्रांसिस्को में भारतीय दूतावास से संपर्क किया गया है और उन्हें तत्काल सहायता देने के लिए डॉक्टर उपलब्ध करवाया गया, ताकि उनका उपचार किया जा सके।'

बीमार हैं अशोक दीवान

दीवान, जिन्होंने 1976 समर ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। उन्होंने भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा को एक पत्र लिखा था। उनके पत्र में 65 वर्षीय ने कहा कि वह हाई ब्लड प्रेशर से पीडि़त हैं। इसके अलावा अन्य बीमारियों के चलते उन्हें पिछले हफ्ते इमरजेंसी में अस्पताल में एडमिट होना पड़ा था। दीवान ने कहा कि वह 20 अप्रैल तक भारत वापस आने वाले थे मगर मौजूदा कोरोना संकट को देखते हुए उनका आ पाना मुश्किल है। इस लेटर में दीवान ने लिखा था, 'मैं इन दिनों अच्छा महसूस नहीं कर रहा हूं, यहां मेरे पास कोई भी नहीं है। जैसा कि आप जानते हैं कि यहां इलाज काफी महंगा होता है। इसलिए मैंने खेल मंत्री से सहायता करने के लिए लेटर लिखा।'

भारत में फैला कोरोना संकट

कोरोना वायरस के मामले देश में 6 हजार पार हो गए हैं। मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर पर सुबह 9 बजे तक अपडेट डिटेल के मुताबिक कोरोना के कुल मामले 6,412 मामले अब तक सामने आ चुके हैं। इसमें मौत और कोरोना पीडि़तों के ठीक होने के मामले भी शामिल है। वर्तमान में देश में कोरोना के एक्टिव केस 5,709 हैं। वहीं 503 मरीज ठीक और डिस्चार्ज हुए हैं, जबकि 199 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। वहीं 1 मरीज पलायन कर गया है। वहीं राज्यवार बात करें तो महाराष्ट्र के हालात काफी गंभीर हैं। यहां सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के अनुसार, अब तक कोरोना वायरस के एक लाख तीस हजार सैंपल का टेस्ट किया जा चुका है।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

inext-banner
inext-banner