कोलंबो (एएफपी)। श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने बुधवार को कहा कि उसे चेतावनी मिली है कि उसकी राष्ट्रीय टीम पाकिस्तान के आगामी दौरे के दौरान आतंकी हमले का निशाना बन सकती है। बोर्ड ने कहा कि श्रीलंका के प्रधान मंत्री कार्यालय ने छह मैचों के सीमित ओवरों के दौरे से पहले राष्ट्रीय टीम के खिलाफ "संभावित आतंकवादी खतरे की विश्वसनीय जानकारी" प्राप्त होने के बाद "स्थिति को फिर से समझने" की सलाह दी थी। बताते चलें कि मार्च 2009 में पाकिस्तान के लाहौर में एक टेस्ट मैच के दौरान श्रीलंका टीम आतंकवादी हमले का शिकार हुई थी। बंदूकधारियों ने उनकी बस पर हमला किया था जिसमें छह पाकिस्तानी पुलिसकर्मी और दो नागरिक मारे गए थे।

खिलाड़ियों ने सुरक्षा का दिया हवाला
श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को यह चुनने की स्वतंत्रता दी थी कि वे पाकिस्तान की यात्रा करना चाहते हैं या नहीं। ट्वेंटी 20 के कप्तान लसिथ मलिंगा और पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज और थिसारा परेरा उन 10 खिलाड़ियों में शामिल हैं, जिन्होंने सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए पाकिस्तान दौरे पर न जाने का फैसला लिया है। पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा, "हम समझते हैं कि श्रीलंकाई बोर्ड जिस स्थिति का सामना कर रहा है और हम जानते हैं कि वे अपने किसी भी खिलाड़ी को दौरे पर आने के लिए मजबूर नहीं कर सकते हैं।"

SL vs Pak : मलिंगा सहित 10 खिलाड़ियों ने पाकिस्तान में खेलने से किया इंकार, मचा बवाल

पाक क्रिकेट बोर्ड ने दी चेतावनी
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने यह भी कहा कि सोचिए अगर यह दौरा सफल हो जाता है तो श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड या यहां तक ​​कि बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड भी पाकिस्तान में ICC विश्व टेस्ट चैंपियनशिप मैच न खेलने के लिए कैसे कह पाएगा। बोर्ड का कहना है भले ही यह सच है कि बड़े खिलाड़ी नहीं आ रहे हैं। मगर श्रीलंका की राष्ट्रीय टीम इस महीने से पाकिस्तान का दौरा करेगी और बोर्ड के लिए यही मायने रखता है।

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk