MUSABANI: जमशेदपुर के एसएसपी अनूप बिरथरे क्षेत्र में दुर्गा पूजा शांति और सौहार्द के वातावरण में संपन्न हो इसको लेकर शनिवार को विभिन्न थाना के थाना प्रभारी इंस्पेक्टर के साथ मुसाबनी थाना में समीक्षा बैठक की इस बैठक में ग्रामीण एस पी अनुरंजन किस्पोट्टा एएसपी अभियान प्रणब आनंद झा, मुसाबनी इंस्पेक्टर मदन मोहन सिंह सहित विभिन्न थाना के थाना प्रभारी मौजूद थे. एसएसपी ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा क्षेत्र में दुर्गा पूजा का त्यौहार शांति और सौहार्द के वातावरण में संपन्न हो, इसके लिए सभी थाना प्रभारी अपने अपने थाना क्षेत्र में ब्लू ¨प्रट तैयार कर विधि व्यवस्था कायम करने दिशा में आवश्यक कदम उठाएं. हुड़दंग मचाने वालों पर नजर रखें.उनके विरुद्ध कार्रवाई करना सुनिश्चित करें. पूजा पंडालों में व्यापक सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराने के साथ साथ क्षेत्र में विधि व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त हर हाल में रखना सुनिश्चित करें.

पूजा के समय डीजे पर अश्लील और भड़काऊ गाने पर पूणत: पाबंदी के निर्देश दिए. कहा कि अपने अपने थाना क्षेत्रों में डीजे वालों से बात कर उन्हें दिशानिर्देश दें. उन्होंने कहा कि पूरे साल में सभी त्यौहारों को जैसे होली, रामनवमी, ईद, बकरीद, मोहर्रम आदि त्योहारों को पूरे जिला में आपसी सौहार्द के साथ मनाया गया है. उसी तरह दुर्गा पूजा का पर्व भी हर्ष उल्लास और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराया जाना सुनिश्चित करने को लेकर सभी थाना प्रभारियों को कई निर्देश दिए गए हैं. एक माह से वारंटियों को पकड़ने का अभियान चलाया जा रहा है. इस बैठक में इसकी समीक्षा की गई.एसएसपी ने कहा कि

अवैध शराब के कारोबार को बंद करने की मुहिम चल रही है. इसमें लगातार छापामारी की जा रही है. इसमें कुछ हद तक सफलता मिली है. अवैध शराब भट्टियों के खिलाफ अभियान ते•ा करने को कहा गया है. एसएसपी अनूप बिरथरे ने कहा कि इस क्षेत्र को नक्सल मुक्त करना जिला पुलिस की बड़ी उपलब्धि है. 2017 में पुलिस द्वारा चलाये गए अभियान में कई हार्डकोर नक्सली मारे गए. और कई ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. हमारी इस क्षेत्र पर पैनी न•ार रहती है. ताकि इस नक्सल मुक्त क्षेत्र में दोबारा नक्सलवा नही पनपे. एसएसपी ने मुसाबनी थाना में समीक्षा बैठक समाप्त करने के बाद सभी अधिकारियों के साथ गुड़ाबंधा के जियान गांव की ओर प्रस्थान कर गए. बैठक में मुसाबनी थाना प्रभारी सुरेश ¨लडा, जादूगोड़ा थाना प्रभारी प्रभात कुमार, डुमरिया थाना प्रभारी करम पाल भगत, पोटका थाना प्रभारी जितेन्द्र राम, कोवली थाना प्रभारी दिवाकर दुबे शामिल थे.