बरेली (ब्‍यूरो)। कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए देश में 24 अप्रैल तक पीएम नरेन्द्र मोदी ने लॉक डाउन की घोषित कर दिया है। ऐसे में हर कोई वर्क फ्रॉम होम पर फोकस है। इसको लेकर सिटी के अधिकतर स्कूल ने भी कोरोना वायरस के कारण छुट्टी के निर्देश के बाद ही स्टूडेंट्स का रिजल्ट उनको ऑनलाइन उपलब्ध करा दिया। जिससे नए सेशन को समय से शुरू करने में कोई प्रॉब्लम न हो। लेकिन फिर से लॉक डाउन होने के बाद स्कूलों ने नए सेशन के कोर्स को टाइम से पूरा कराने के लिए ऑनलाइन क्लासेस शुरू कर दिए है। इसका सीधा फायदा लॉक डाउन में घर पर भी स्टूडेंट्स टाइम का यूज कर सकेंगे, और समय से अपना कोर्स भी पूरा कर सकेंगे।

100 स्टूडेंट्स तक ले सकेंगे लाभ

ऑनलाइन क्लासेस को शुरू करने के बारे में जानकारी देते हुए विद्याभवन स्कूल के प्रिंसिपल योहान कुंवर और वाइस प्रिंसिपल संयोगिता चौधरी ने बताया कि इस ऑन लाइन एप के माध्यम से स्टूडेंट्स घर बैठे स्टडी कर सकेंगे। एप के माध्यम से एक बार में 100 स्टूडेंट्स घर बैठे स्टडी कर सकेंगे। इसमें टीचर्स भी अपने घर से स्टूडेंट्स की क्वेरी का आंसर देंगे। विद्याभवन स्कूल की तरफ से 10-12 बजे तक का स्लॉट अलग-अलग सब्जेक्ट के लिए जारी किया है। इससे स्टूडेंट्स को सीधा लाभ मिलेगा।

एसआर इंटरनेशनल में भी ऑनलाइन क्लास

एसआर इंटरनेशनल की एमडी रूमा गोयल ने बताया कि उन्होंने भी स्कूल में स्टडी करने वाले स्टूडेंट्स के लिए एप और वाट्सएप ग्रुप बनाकर ऑनलाइन स्टडी शुरू कराई जा रही है। इससे एक तो बच्चे अपने समय का सही यूज कर सकेंगे और दूसरा कोर्स वर्क भी समय से पूरा कर सकेंगे। ऑनलाइन स्टडी के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है। जिसमें सभी स्टूडेंट्स को एड कर टीचर्स सुबह 10 से 12 के स्टूडेंट्स के लिए सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक अलग-अलग कोर्सेस के टीचर्स ऑनलाइन स्टडी कराते हैं। इसके बाद दो घंटा सोशल एक्टिविटी की भी क्लास कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि यह अभी सिर्फ 10-12वीं के स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन क्लासेस शुरू किया गया है। लेकिन 31 मार्च के बाद से स्कूल के सभी बच्चों के लिए ऑनलाइन क्लासेस का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। ताकि वह भी अपने खाली समय का सदुपयोग कर सके।

एनसीईआरटी बुक्स का दिया लिंक

ऑनलाइन क्लासेस के दौरान बड़ी समस्या नई क्लास की बुक्स की।

-सभी बच्चों को उनके क्लासवायज ऑनलाइन एनसीईआरटी बुक्स का लिंक भेज दिया गया है।

-जिससे सभी क्लास के बच्चे सभी सब्जेक्ट की अपनी बुक्स को ऑनलाइन पढ़ सके।

-इसके बाद जूम क्लाउड मीटिंग के जरिए क्लासेस का संचालन किया जा रहा है।

-लॉक डाउन के चलते बच्चों के खाली टाइम का बेहतरीन उपयोग हो जाएगा।

-रिवीजन वर्क भी पूरा हो जाएगा।

ऑनलाइन क्लासेस के संचालन से सेशन पर कोई असर नहीं पड़ेगा लेकिन बच्चों का कोर्स समय से पूरा होगा। इसके साथ बच्चों की एनर्जी चैनलाइज्ड करने की जरूरत होती है। आनलाइन क्लास स्टूडेंट्स के लिए हेल्पफुल साबित होगा।

योहान कुवंर, पि्रंसिपल विद्याभवन पब्लिक स्कूल

-स्कूल में ऑनलाइन क्लासेस की सुविधा स्टूडेंट्स के लिए शुरू की गई है। ताकि स्टूडेंट्स लॉक डाउन में खाली समय का सदुपयोग कर सके, और समय से कोर्स भी पूरा कर सकेंगे। ऑनलाइन क्लासेस में स्टूडेंट्स रूचि भी ले रहे हैं।

डॉ। आरके शर्मा, डायरेक्टर एसआर इंटरनेशनल स्कूल

Posted By: Inextlive