- भागीरथीपुरम के पास झाडि़यों में मिले युवक-युवती के शव

- चंडीगढ़ में काम करने वाले युवक की पिछले साल हुई थी युवती से सगाई

- अगले साल अप्रैल में होना था दोनों का विवाह

<- भागीरथीपुरम के पास झाडि़यों में मिले युवक-युवती के शव

- चंडीगढ़ में काम करने वाले युवक की पिछले साल हुई थी युवती से सगाई

- अगले साल अप्रैल में होना था दोनों का विवाह

NEW TEHRI (JNN, 27 Sept):NEW TEHRI (JNN, 27 Sept): हंसते-खेलते साथ घूमते हुए संडे को अचानक रमेश और रजनी की जिंदगी में जाने क्या मोड़ आया कि दोनों ने एकसाथ जहर खाकर मौत को गले लगा लिया. दोनों के शव भागीरथीपुरम के पास झाडि़यों में संडे की सुबह मिले. रमेश चंड़ीगढ़ में एक होटल में काम करता था, जबकि रजनी स्थानीय कालेज में बीए फाइनल की छात्रा थी. एक वर्ष पूर्व दोनों की सगाई हो चुकी थी और अगले साल अप्रैल में विवाह होना था. ऐसे में पुलिस भले ही मामले को आत्महत्या मान रही है, लेकिन इस मौत में कई तरह के राज छिपे होने की बात सामने आ रही है.

सफाई कर्मचारी ने देखे मॉर्निग में दोनों शव

संडे मॉर्निग में आठ बजे टिहरी हाइड्रो डेवलपमेंट कारपोरेशन (टीएचडीसी) के सफाई कर्मचारी ने पुलिस को सूचना दी कि भागीरथीपुरम के सी-ब्लॉक की झाडि़यों के पास एक युवक और युवती का शव पड़ा है. पुलिस के अनुसार, दोनों के मुंह से झाग निकल रहा था. झाडि़यों में पास ही एक बैग भी पड़ा था. बैग में मिले कागजों के आधार पर पुलिस ने युवक की पहचान रमेश सिंह (ख्भ् वर्ष) पुत्र स्व. प्रेम सिंह निवासी मरोड़ा गांव सकलाना पट्टी जौनपुर और युवती की शिनाख्त रजनी चौहान (ख्क् वर्ष) पुत्री त्रेपन सिंह निवासी बुडोगी के रूप में की.

सैटरडे को रजनी से मिलने आया था रमेश

पुलिस के अनुसार, रमेश सैटरडे को अपनी मंगेतर से मिलने चंडीगढ़ से नई टिहरी आया था. बताया जा रहा है कि इवनिंग में दोनों कोटी कॉलोनी में घूमते भी देखे गए. वहीं मृत युवक के चचरे भाई राजेंद्र सिंह ने बताया कि उनको तो यह भी नहीं पता कि रमेश नई टिहरी आया है. अब पुलिस के सामने सबसे बड़ा सवाल यह है कि यदि यह आत्महत्या है तो दोनों ने ऐसा क्यों किया? दोनों के मोबाइल फोन भी पुलिस के कब्जे में हैं.

मौत के कारणों का सही पता तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही चलेगा, लेकिन परिस्थितियों को देखते हुए ऐसा लगता है कि उन्होंने विषैला पदार्थ खाया है.

- विजय चंद्र गुसाई, कोतवाली प्रभारी, नई टिहरी