agra@inext.co.in

AGRA: विश्व के सात अजूबों मे शुमार ताजमहल के शहर आगरा को प्रदूषण से मुक्त करने के लिए पिछले माह एयर एक्शन प्लान लांच किया गया. अब 10 करोड़ से शहर में वायु प्रदूषण को कम करने के लिए इस प्लान का क्रियान्वयन किया जाएगा. वायु प्रदूषण को कम करने के लिए केन्द्र सरकार ने 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले 28 शहरों का चयन किया है. इसमें यूपी के आगरा, कानपुर, इलाहाबाद, लखनऊ और वाराणसी को भी शामिल किया गया है. पहले चरण में लखनऊ को बजट मुहैया कराया जाएगा. दूसरे चरण में आगरा को बजट मिलेगा. इसमें 30 फीसदी तक वायु प्रदूषण को कम करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

वायु प्रदूषण को कम करने को ये होंगे काम

- ऑटोमेटिक एयर इंडेक्स मापांक सेंटर स्थापित करना

- पौधरोपण कर ग्रीनरी में इजाफा करना

- वाटर स्प्रिंकलर से छिड़काव करना

- ताज के 500 मीटर के दायरे में तन्दूर के लिए इलैक्ट्रोनिक भट्टियों को बढ़ावा देना

- प्रदूषण जांच केन्द्रों की संख्या में इजाफा करना

- ताज के आसपास चूल्हे का प्रयोग करने वालों को गैस चूल्हा मुहैया कराना

-वाहनों में फिल्टर लगाया जाना.

-इलैक्ट्रोनिक बसों को बढ़ावा देना.

-चौराहों पर फुब्बारों का संचालन करना

1999 में हुआ था टीटीजेड प्राधिकरण का गठन
वर्ष 1999 में आगरा में टीटीजेड प्राधिकरण का गठन किया गया था. इसमें आगरा समेत छह जिलों के 10400 वर्ग मी. में फैले क्षेत्रफल को को शामिल किया गया था, जिसमें मथुरा, फिरोजाबाद, भरतपुर आदि जिले शामिल थे. वर्ष 1983 में आगरा और मथुरा को वायु प्रदूषण संरक्षित घोषित किया गया था.

इसलिए जरूरत पड़ी एयर एक्शन प्लान की
शहर में बढ़ते हुए प्रदूषण को कम करने के लिए एयर एक्शन प्लान की जरूरत समझी गई. उ.प्र. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (यूपीपीसीबी) द्वारा तैयार किए गए एयर एक्शन प्लान को केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने एप्रूव्ड किया है. इसमें सीपीसीबी ने एक्यूआइ का मानक 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मी. प्रति वर्ष रखी गई है. बता दें कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने देश के 120 शहरों में वायु प्रदूषण के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए एयर एक्शन प्लान तैयार किया है. इसमें लॉन्ग और शॉर्ट टर्म एयर एक्शन प्लान तैयार किया है. सभी के लिए अलग-अलग समय निर्धारित किया गया है. इसी परिप्रेक्ष्य में ताज नगरी को वायु प्रदूषण कम करने को एयर एक्शन प्लान को कम करने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा 10 करोड़ का बजट मुहैया कराया जा रहा है.

लॉन्ग टर्म प्लान

योजनाएं जिम्मेदारी निर्धारित समयावधि

जाम से छुटकारा एनएचएआई और पीडब्ल्यूडी 360 दिन

वाहनों में फ्लिटर व्हीकल्स कंपनी रोड मिनिस्ट्री 360 दिन

नहरों को पक्का करना नहर सिंचाई और वन विभाग 180 दिन

इलेक्ट्रिक बसें रोडवेज विभाग 360 दिन

------------------------------------------

शॉर्ट टर्म प्लान

योजना जिम्मेदार निर्धारित समयावधि

फुव्वारों का संचालन नगर निगम, एडीए तीन महीने

बैटरी चलित वाहन निगम, एडीए चार महीने

पेट्रो पदार्थो में मिलावट डीएसओ एक महीना

इंटेलीजेंट ट्रैफिक सिस्टम ट्रैफिक पुलिस 180 दिन

सड़कों का चौड़ीकरण नगर निगम तीन महीने

रिमोर्ट सेंसर ट्रैफिक पुलिस 180 दिन

प्रदूषणकारी वाहनों की चेकिंग आरटीओ, ट्रैफिक पुलिस नियमित

सार्वजनिक स्थानों पर ग्रीनरी वन विभाग तीन महीने

वर्जन

शहर में वायु प्रदूषण को कम करने के लिए एयर एक्शन प्लान पहले ही तैयार किया जा चुका है. अब प्रदूषण को कम करने के लिए 10 करोड़ का बजट मुहैया कराया जाएगा. इसमें बहुत बिन्दुओं पर कार्य किया जाएगा.

विश्वनाथ शर्मा

क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी आगरा