- ऑनलाइन फैंसी नंबर की अब बोली से होगी बुकिंग

- राजधानी में फैंसी नंबर की नीलामी के लिए व्यवस्था तैयार

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: यदि आप अपनी नई गाड़ी पर फैंसी (वीआईपी) नंबर चाहते हैं तो गाड़ी खरीदने से पहले ही इसकी बुकिंग करानी पड़ेगी. नंबर अलॉट होने के बाद एक माह के अंदर वाहन खरीदकर इसका उपयोग किया जा सकता है. परिवहन विभाग राजधानी में ऑनलाइन बुक होने वाले नंबरों की नीलामी करेगा. परिवहन विभाग ने राजधानी में इस पायलट प्रोजेक्ट को हरी झंडी दे दी है. यहां योजना सफल होने पर इसे बाकी जिलों में भी लागू किया जाएगा.

346 नंबर शामिल
विभागीय अधिकारियों के अनुसार फैंसी नंबरों की ऑनलाइन नीलामी का पायलट प्रोजेक्ट लखनऊ में शुरू हो रहा है. फैंसी नंबरों की लिस्ट में 346 नंबर शामिल हैं. इन्हें चार श्रेणियों में बांटा गया है. इनकी कीमत 3000, 5000, 7500 और 15000 रुपए है. लेकिन अब इस कीमत पर यह नहीं मिलेंगे. इसके लिए बोली ऑनलाइन लगानी होगी. किसी नंबर की बुकिंग न होने पर सात दिन बाद उसकी नीलामी फिर शुरू होगी. 14 दिन बाद नंबर नीलाम ना होने पर इसे फ‌र्स्ट कम और फ‌र्स्ट टेक के आधार पर निर्धारित धनराशि पर अलॉट किया.

पहले देना होगा एक तिहाई
विभागीय अधिकारियों ने बताया कि ऑनलाइन नंबरों के लिए बोली लगाने वाले को नंबर के लिए निर्धारित राशि का एक तिहाई पहले जमा करना होगा. मसलन कोई 15 हजार वाले नंबरों की श्रेणी में बोली लगाना चाहता है तो उसे 5000 रुपए एडवांस देने होंगे. बोली फाइनल होने पर अतिरिक्त धनराशि जमा करनी होगी.

ऑनलाइन नंबर के लिए वाहन फोर पोर्टल पर व्यवस्था कर ली गई है. इसकी शुरुआत राजधानी में होनी है. पायलट प्रोजेक्ट के लिए लखनऊ का चुनाव किया गया है.
पी गुरु प्रसाद, परिवहन आयुक्त, यूपी

खत्म होगा दलालों का जाल
विभागीय अधिकारियों के अनुसार फैंसी नंबरों की ऑनलाइन नीलामी की शुरू होते ही दलालों का इस पर शिकंजा खत्म हो जाएगा. जो सर्वाधिक भुगतान करेगा, नंबर उसे मिलेगा.

लग सकता है 14 दिन का समय
ऑनलाइन फैंसी नंबरों की खरीद में 14 दिन से अधिक का समय लग सकता है. ऐसे में जिस व्यक्ति को नंबर चाहिए वह पहले नंबर हासिल कर ले. क्योंकि वाहन लेने के बाद ऑनलाइन नंबर बुकिंग के लिए सात दिन का समय मिलता है. उसके बाद जो नंबर विभाग अलॉट करेगा, वही स्वीकार करना होगा.