बलि देने की आशंका से डरे परिजनों ने पुलिस में की शिकायत

bareilly@inext.co.in
BAREILLY: कोतवाली एरिया में तांत्रिक महिला का अपहरण करके ले गया है. महिला डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में ननद की देखभाल के लिए रुकी थी. तांत्रिक ने वारदात को अपने बेटे के साथ मिलकर अंजाम दिया है. महिला के पति ने बलि की आशंका के चलते पुलिस में शिकायत की है. क्योंकि गांव वालों से वह काफी दिनों से बलि देने की बात कह रहा था. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

गांव की भलाई के लिए बलि देने की कही थी बात
सुभाषनगर के करेली गांव निवासी इरशाद पत्नी आसमां व बच्चों के साथ रहते हैं. 8 सितंबर को उसकी पत्नी डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में भर्ती ननद की देखभाल के लिए रुकी थी लेकिन देर रात लापता हो गई. जब उन्होंने खोजबीन की तो पता चला कि देवरनिया निवासी तांत्रिक नन्हें ने अपने बेटे व एक महिला की मदद से आसमां का अपहरण कर लिया है. उसने मामले की शिकायत की थी, लेकिन कोतवाली पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया था. तांत्रिक नन्हें उनके गांव के कई घरों में भी तंत्र मंत्र कर चुका है. वह गांव वालों को नरबलि के लिए उकसा रहा था. उसने गांव की भलाई के लिए नर बलि आवश्यक बताया. जिसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस बुलाकर उसे सौंप दिया था. इसी बात से तांत्रिक ग्रामीणों से नाराज था और उसकी पत्नी को ही अगवा कर लिया. कहीं ऐसा न हो कि वह उसकी पत्नी की ही बलि चढ़ा दे.