JAMSHEDPUR: कोरोना से बचाव को लेकर टाटा कमिंस प्रबंधन ने भी कमर कस ली है। कर्मचारियों के बीच जागरूकता फैलाने व इस वायरस के बारे में जानकारी देने का काम जारी है। इसी क्रम में कंपनी गेट में प्रवेश से पूर्व कर्मचारियों को अपने हाथों में सैनिटाइजर लगाना होता है।

कंपनी के अंदर जाने के बाद कर्मचारियों के कार्य स्थल पर भी साफ-सफाई के उपाय किए जा रहे हैं। कर्मचारियों के बीच रहने वाले अधिकारियों को मॉस्क लगाने की सलाह दी गई है। उधर, जिन कर्मचारियों को सर्दी-जुकाम हो जाता है उन्हें मेडिकल चेकअप कराने के बाद ही ड्यूटी पर आना है। वहीं शहर से बाहर रहने के बाद कर्मचारियों की वापसी पर उनकी भी मेडिकल जांच होनी है। मेडिकल जांच के लिए कर्मचारियों को मेडिकल अनफिट किया जायेगा तो फिट होने के बाद ही उन्हें ड्यूटी मिलेगी।

नमस्ते करने की मिल रही सलाह

टाटा मोटर्स, टाटा हिताची व टाटा कमिंस के कर्मचारियों को अब एक-दूसरे से हाथ मिलाने की जगह नमस्कार करने की सलाह दी जा रही है। कंपनी के अधिकारियों व कर्मचारियों को कोरोना से बचने के लिए यह सुझाव दिया जा रहा है। कर्मचारी भी इस पर अमल कर रहे हैं तथा एक-दूसरे को नमस्कार करने लगे हैं।

टेल्को कॉलोनी में बांटे जा रहे पर्चे

कोरोना से बचाव को लेकर टेल्को कॉलोनी में अब पचे बांटे जा रहे हैं। टेल्को नगर विभाग के प्रतिनिधि कर्मचारियों के घर-घर जाकर उन्हें कोरोना वायरस से बचने के उपाय बता रहे हैं तो पर्चा देकर जागरूक बनाने का भी काम कर रहे हैं।

टाटा मोटर्स की बसें भी हो रहीं सैनिटाइज

जासं, जमशेदपुर : टाटा मोटर्स के अंतर्गत चलने वाली सेंट्रल ट्रांसपोर्ट कंपनी की बसों पर सैनिटाइजर का छिड़काव शुरू है। गुरुवार को कंपनी के दर्जनों बसों के अंदर बिषाणुरोधी दवा का छिड़काव किया गया। बस के अंदर सभी सीटों के अलावा हैंडल आदि की साफ-सफाई की गई। इसे लेकर बस चालक व खलासियों की एक शिविर लगाकर उन्हें कोरोना के बारे में बताया गया। बस के अंदर बैठे कर्मचारियों पर ध्यान रखने की बात कही गई। बस के कर्मचारियों को भी मॉस्क व ग्लब्स पहनने की जरूरत बताई गई।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner