- अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व की शिकायत पर जांच करने करने आए बार काउंसिल के चेयरमैन

- पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बैंच की मांग का किया समर्थन

आगरा। एडीएम वित्त एवं राजस्व की शिकायत पर जांच करने आगरा पहुंचे यूपी बार काउंसिल के चेयरमैन हरीशंकर सिंह ने कहा कि किसी भी कोर्ट का आदेश फाड़ना निंदनीय है। ऐसा नहीं करना चाहिए। यहां से वे अधिवक्ता दिवस पर दीवानी आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे। वहां पर उन्होंने आगरा की लम्बे समय से चली आ रही हाईकोर्ट बैंच का पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किए जाने का समर्थन किया।

कोर्ट का आदेश फाड़ने का है आरोप

एडीएम वित्त एवं राजस्व रमेशचंद ने यूपी बार काउंसिल में कलक्ट्रेट बार के अध्यक्ष विजेंद्र सिंह रावत पर कोर्ट का आदेश फाड़ने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। इसका संज्ञान लेने के लिए मंगलवार को चेयरमैन हरीशंकर सिंह कलक्ट्रेट पहुंचे। इस दौरान एडीएम वित्त एवं राजस्व नहीं मिले। बताया गया था कि वे तहसील दिवस में गए हुए हैं। उन्होंने उनके स्टाफ से शिकायत के आधार पर पूछताछ की। हालांकि पूछताछ में उन्होंने क्या पाया, इस संबंध में उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी। लेकिन उन्होंने यह जरूर कहा कि किसी कोर्ट का आदेश फाड़ना वास्तव में निंदनीय है।

अधिवक्ताओं ने किया स्वागत

इसके बाद कलक्ट्रेट स्थित एडवोकेट वेलफेयर एसोसिएशन के वे कार्यालय पहुंचे। वहां पर उनका फूलमाला पहनाकर स्वागत किया। यहां से वे दीवानी पहुंचे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने अधिवक्ताओं को अपने कर्तव्यों के प्रति सतर्क करने को कहा। हाईकोर्ट बैंच की मांग पर उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बैंच की स्थापना होनी चाहिए।

ये थे मौजूद

उनका स्वागत और कार्यक्रम में शामिल होने वालों में एडवोकेट वेलफेयर के अध्यक्ष टीपी सिंह चौहान, महासचिव दिनेश शर्मा, संरक्षक कुंवर शैलराज सिंह, कोषाध्यक्ष भगत सिंह राका, सतीश शर्मा, रवि कुमार चौबे, निशांत चतुर्वेदी, वरुण शर्मा, ईश्वरी प्रसाद, गोविंद कोटिया, अशोक कोटिया आदि प्रमुख थे।

Posted By: Inextlive

inext banner
inext banner