नई दिल्ली (एएनआई)। सिक्किम राज्य के रीजनल पार्टी सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (एसडीएफ) में आज बड़ी सियासी उथल-पुथल मच गई। एसडीएफ के 10 विधायकों ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया है। सभी विधायक पार्टी के मुख्यालय में अपने कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और महासचिव राम माधव की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुए। सिक्किम में वर्तमान में सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) की सरकार है।

5वीं बार ओडिशा के सीएम बने नवीन पटनायक, ये दो नेता भी 5 बार ले चुके हैं सीएम पद की शपथ
एसडीएफ को बहुमत हासिल नहीं हुआ
बता दें कि इस साल लोकसभा के साथ राज्य में विधानसभा चुनाव हुए थे। इस दाैरान 32 सीटों वाले राज्य में एसडीएफ को बहुमत हासिल नहीं हुआ था। एसडीएफ सिक्किम में एक क्षेत्रीय राजनीतिक पार्टी है। यह यहां पर काफी अहम मानी जाती है। इस पार्टी की स्थापना 1993 में चामलिंग द्वारा स्थापित की गई थी। एसडीएफ पार्टी ने यहां पर करीब 25 साल राज किया है।पार्टी के नेता व पूर्व सीएम पवन कुमार चामलिंग सिक्किम में पांच बार सीएम रह चुके हैं।

 

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk