यह थी घटना
डिफेंस एन्कलेव के मकान नंबर बी-505 में आर्मी रिटायर कैप्टन जवाहर सिंह परिवार के साथ रहते हैं. सोमवार की सुबह ये बाहर सब्जी लेने गए थे. तभी आधा दर्जन बदमाश इनके घर में दनदनाते हुए घुस आए थे. जिनके हाथों में पिस्टल और चाकू थे. परिवार के लोगों से मारपीट करते हुए लूटपाट की थी. जवाहर सिंह घर पहुंचे तो उनके साथ भी मारपीट करते हुए फायरिंग की. साथ ही जवाहर सिंह और इनके बेटे परविंदर पर चाकुओं से वार किए. घायल करके ये बदमाश भाग गए.

हालत में सुधार
घायल जवाहर और परविंदर को सुशीला जसवंत राय अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां परविंदर की हालत में सुधार बताया गया है. जवाहर का बेटा कैप्टन भूपेंद्र भी जैसलमेर से लौट आया. पुलिस से अपने पिता पर हमलावरों के बारे में पूछताछ की, लेकिन पुलिस अभी तक कुछ नहीं सुराग नहीं लगा पाई. सुबह डीएम नवदीप रिनवा भी पीडि़त परिवार से मिलने पहुंचे. जहां उन्होंने परिवार से दो दिन का समय मांगा. कहा कि घटना के खुलासे के करीब हैं.

एसओ को हटाया
डीएम लौटते हुए थाना कंकरखेड़ा में भी रुके. जहां उनके सामने एक केस आया. जिसमें एक व्यक्ति को पिछले 45 घंटों से थाने में बैठा रखा था. परिजनों ने डीएम से शिकायत की तो उन्होंने एसओ को लताड़ लगाई. साथ ही उनको हटाने की संस्तुति भी कर दी.

 

रिटायर्ड कैप्टन को मारी गोली