लखनऊ: राजभवन को डायनामाइट से उड़ाने का धमकी भरा पत्र मिलने से हड़कंप मच गया। धमकी झारखंड के नक्सली उग्रवादी संगठन तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी (टीएसपीसी) की ओर से दी गई है। पत्र मंगलवार को ही डाक से राजभवन पहुंचा था। पत्र में 10 दिनों के अंदर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के राजभवन छोड़कर न जाने पर राजभवन को डायनामाइट से उड़ा देने की धमकी दी गई है।

24 घंटे में रिपोर्ट तलब

राज्यपाल के अपर मुख्य सचिव हेमंत राव ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी से संपर्क किया और पत्र की जानकारी दी। राव ने बताया कि प्रकरण की जांच के लिए राजभवन ने संबंधित पत्र गृह विभाग को भेज दिया है। अपर मुख्य सचिव गृह का कहना है कि उन्होंने डीजीपी ओपी सिंह, डीजी इंटेलीजेंस भवेश सिंह व एडीजी सुरक्षा मुख्यालय दीपेश जुनेजा को पत्र भेज स्थिति का पूर्ण आकलन करते हुए उसकी तत्काल जांचकर बुधवार तक रिपोर्ट देने को कहा है। राजभवन की सुरक्षा के लिए आवश्यकतानुसार उपाय करने के भी निर्देश दिए गए हैं। राजभवन की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को अतिरिक्त मुस्तैदी बरतने व हर संदिग्ध पर कड़ी नजर रखने की हिदायत भी दी गई है।

Posted By: Inextlive