-सात जुलाई को चालक ने ट्रक चोरी होने की दर्ज कराई थी रिपोर्ट

-ट्रक मालिक को भी योजना में कर लिया था शामिल

-पुलिस ने घेराबंदी की तो चालक कूदकर भागा, ट्रक मालिक व एक अन्य गिरफ्तार

शेरगढ़ : पहले ट्रक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई. फिर बीमा क्लेम पाने के लिए चालक व मालिक ने ट्रक को कटवाने की योजना बनाई. वह ट्रक लेकर जा ही रहे थे कि पुलिस ने उन्हें घेर लिया. इस दौरान चालक कूदकर भाग गया, जबकि पुलिस ने ट्रक मालिक व एक अन्य को गिरफ्तार कर लिया.

गांव टांडा निवासी रियाज अहमद का मई माह में घर के सामने से ट्रक चोरी हो गया था. सात जुलाई को चालक राशीद अंसारी निवासी चंदपुर जोगीयान ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी. थानाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि बीती रात सूचना मिली कि सरिया से भरा ट्रक बहेड़ी में काटने को ले जाया जा रहा है. उन्होंने शाही बहेड़ी रोड पर पिपरिया मोड़ पर ट्रक पकड लिया. इस दौरान चालक राशिद अंसारी ट्रक से कूद कर फरार हो गया. पुलिस ने ट्रक में बैठे ट्रक मलिक रियाज अहमद टांडा शेरगढ़, रहीस अहमद विदौलिया सीबीगंज, रिजवान शेखूपुर बहेड़ी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने इन्हें जेल भेज दिया. थानाध्यक्ष ने बताया कि मई माह में शेरगढ़ से माल भरकर ट्रक बिहार पटना गया था. इसका चालक राशिद था. लौटे वक्त राशिद ने बिहार की ही नील कमल फैक्ट्री से डेढ़ सौ कुंतल सरिया भरकर गोरखपुर को रवाना हुआ, जिसे 16 मई को पहुंचना था. मन में लालच आने पर चालक ने साठ कुंतल सरिया मैकलगंज में बेच दी गई. चालक बची सरिया समेत ट्रक बरेली मामा रहीस के घर ले आया. रहीस ईट का कारोबार करता है. कुछ सरिया इधर उधर सेल कर दी. ट्रक मालिक से भी साठगांठ कर ली. बीमा क्लेम के लिए ट्रक कटवाने की योजना बना ली. ट्रक मालिक ने रिजवान को भी इस मामले में शामिल कर लिया. चालक ने ट्रक की नंबर प्लेट भी बदल दी थी. फिलहाल, पुलिस ने तीनों को जेल भेज दिया है.