लोहरदगा : लातेहार के सीमावर्ती क्षेत्र लोहरदगा जिले के पेशरार थाना अंतर्गत सहेदापाट जंगल में गुरुवार को दिन के उजाले में पुलिस और उग्रवादी संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद (जेजेएमपी) के हथियारबंद दस्ते के साथ जर्बदस्त मुठभेड़ हुई. इसमें जेजेएमपी के पप्पू लोहरा दस्ते के तीन उग्रवादियों को पुलिस ने मार गिराया. जबकि, एक अन्य उग्रवादी भी पुलिस की गोली से जख्मी हुआ है. उसे पप्पू लोहरा दस्ते के सदस्य अपने साथ लेते गए. पुलिस ने जेजेएमपी के उग्रवादियों से दो एके-47 रायफल बरामद किए हैं. इसकी पुष्टि एसपी प्रियदर्शी आलोक ने की है.

मिली थी सूचना

एसपी आलोक ने बताया कि उन्हें जेजेएमपी के उग्रवादियों के पेशरार के सहेदापाट जंगल में होने की सूचना मिली थी. इस जानकारी के बाद लोहरदगा और लातेहार पुलिस की संयुक्त टीम ने लोहरदगा के एएसपी (अभियान) पुरुषोत्तम कुमार के नेतृत्व में छापेमारी अभियान शुरू किया. पुलिस की टीम जैसे ही सहेदापाट जंगल पहुंची, जेजेएमपी के कमांडर पप्पू लोहरा के दस्ते ने गोलियां बरसानी शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने भी फाय¨रग की है. इस दौरान गोली लगने से तीन उग्रवादियों की मौके पर ही मौत हो गई. एक अन्य उग्रवादी को भी गोली लगी है. उसे उसके उग्रवादी साथी उठाकर अपने साथ घने जंगल की ओर लेते गए. घटनास्थल से पुलिस ने दो एके-47 रायफल बरामद किए हैं.

संगठन को झटका

उल्लेखनीय है कि लोहरदगा में पुलिस के साथ मुठभेड़ की घटना में पहली बार जेजेएमपी के तीन उग्रवादी मारे गए हैं. पुलिस दंडाधिकारी की मौजूदगी में इन उग्रवादियों के शवों की पहचान कराने के साथ आगे की कार्रवाई करेगी. इसके लिए लोहरदगा से दल-बल के साथ एसपी प्रियदर्शी आलोक घटनास्थल के लिए रवाना हो चुके हैं. तीन उग्रवादियों के मारे जाने के बाद जेजेएमपी को तगड़ा झटका लगा है.

-------