JAMSHEDPUR: पूर्वी सिंहभूम में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज अस्पताल में गुरुवार को एक कोरोना पॉजिटिव केस पाया गया है। कोरोना संक्त्रमित व्यक्ति डुमरिया का रहनेवाला है और तमिलनाडु में काम करने गया था। वहीं सरायकेला के दो लोगों के कोरोना संक्त्रमित पाए जाने की पुष्टि हुई है। इन दोनों में से एक पश्चिम बंगाल के हावड़ा से जबकि दूसरा से पंजाब के कपूरथला से आया था। पंजाब से आए युवक को प्रशासन ने होम क्वारंटाइन किया था। जबकि संतरागाछी से आए युवक को चांडिल पॉलिटेक्निक कॉलेज में क्वारंटाइन किया गया था। गुरुवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अनुमंडल प्रशासन ने दोनों युवकों को जमशेदपुर स्थित कोविड अस्पताल ले गई। वहीं, होम क्वारंटाइन में रह रहे युवक के परिवार के सभी सदस्यों को आइसोलेट कर दिया है। जबकि चांडिल पॉलिटेक्निक कॉलेज क्वारंटाइन सेंटर से संक्रमित युवक के जाने के बाद उस वार्ड के 13 संदिग्धों को नीमडीह प्रखंड क्षेत्र के हुंडरू पाथरडीह कोविड केयर सेंटर ले जाया गया है। अबतक कोल्हान में कुल कोरोना संक्त्रमितों की संख्या 21 हो गई है। हाल ही में प्रवासी मजदूरों की वापसी शुरू हुई तो डुमरिया का व्यक्ति तमिलनाडु से करीब एक सप्ताह पूर्व जमशेदपुर आया था। इन पॉजिटिव केस के साथ ही कोल्हान प्रमंडल में कोरोना संक्त्रमितों की संख्या 21 पहुंच गई है। बुधवार को गोविंदपुर में छह सहित जमशेदपुर में कुल नौ कोरोना संक्त्रमित पाए गए थे। सरायकेला के एक व्यक्ति के भी कोरोना संक्त्रमित होने की पुष्टि की गई थी।

कदमा क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था संक्त्रमित

तमिलनाडु से आने के बाद मजदूर की जांच की गई। उसका नमूना लेकर उसे कदमा स्थित सरकारी क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था। गुरुवार को उसके नमूने की जांच रिपोर्ट आई। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उसे टीएमएच स्थित कोविड-19 वार्ड में ले जाकर एडमिट कराया गया है। वहीं, कदमा स्थित क्वारंटीन सेंटर को सैनिटाइज किया गया है। साथ ही इस बात की जांच की जा रही है कि संक्त्रमित व्यक्ति के साथ क्वारंटीन सेंटर में रहनेवाले लोगों में किसी को संक्त्रमण तो नहीं हुआ।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner