- बर्रा में महिला संविदा कर्मी और युवक से साइबर ठगी हुई, नौबस्ता में दो लाख के लाभ का झांसा देकर 37 हजार की ठगी

kanpur@inext.co.in

KANPUR : शहर में साइबर ठगी का ग्राफ बढ़ता जा रहा है. पुलिस पुराने मामलों का खुलासा भी नहीं कर पाई है कि बर्रा में महिला संविदा कर्मी, एक युवक और नौबस्ता में छात्रा के साथ साइबर ठगी हो गई. ठगी हो गई. तीनों की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

महिला के खाते से निकले 1.45 लाख

बर्रा कर्रही निवासी रामश्री संविदा कर्मी है. उनका पीएनबी की सचान चौराहा ब्रांच में खाता है. रामश्री के मुताबिक उनके खाते में 1.45 लाख रुपये थे. उन्होंने 19 दिसंबर को पासबुक को अपडेट कराया तो पता चला कि उसके खाते से सारे पैसे पार हो चुके है. माना जा रहा है कि उनके खाते से क्लोन चेक या क्लोन एटीएम से पैसा पार हुआ है.

एटीएम कार्ड की डिटेल लेकर..

बर्रा दो छेदीसिंह पुरवा निवासी प्रवीन दुबे का बैंक ऑफ बड़ौदा और एसबीआई में खाता है. उनके पास अज्ञात नंबर से फोन आया था. फोन करने वाले ने खुद को बैंक कर्मी बताकर प्रवीन से उनके एटीएम कार्ड की सारी जानकारी हासिल कर ली. इसके बाद उनके दोनों खातों से 2.12 लाख रुपये पार हो गए. उनको मोबाइल पर मैसेज आने पर ठगी का पता चला.

दो लाख के फायदे का झांसा देकर..

नौबस्ता आवास विकास हंसपुरम निवासी राम दुलारे यादव की बेटी मानसी बीए की छात्रा है. उनके पास अंजान नंबर से फोन आया था. फोन करने वाले खुद को बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना का कर्मचारी बताया था. उसने योजना के तहत दो लाख का लाभ होने का झांसा देकर छात्रा से 37 हजार रुपये अपने खाते में जमा करवा लिया. इसके बाद छात्रा ने उस नंबर पर संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन अब संपर्क नहीं हो पा रहा है.