जमशेदपुर (ब्यूरो)। टाटा स्टील द्वारा भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर लगातार छठवीं बार जनजातीय सम्मेलन का आयोजन कर रही है। इस वर्ष का थीम है आदिवासियत आज। समारोह में शिरकत करने के लिए दस देश व भारत के 23 राज्यों से जनजातीय समुदाय के आदिवासी कलाकार शहर पहुंच रहे हैं। गोपाल मैदान में हर शाम सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा ।इसमें विभिन्न समुदाय के कलाकार अपनी कला, संस्कृति और गीत, संगीत व नृत्य की प्रस्तुति देंगे।

विभिन्न राज्यों से आए कलाकार

इसके लिए गोपाल मैदान के बीचो-बीच अखाड़ा (गोलाकार मंच) बनाया गया है जहां सभी कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे। पांच दिवसीय इस महोत्सव में हर राज्य के आदिवासी रंग, उनके हस्तशिल्प, व्यंजन, जड़ी-बूटी की अमिट छाप गोपाल मैदान में देखने को मिलेगी। शुक्रवार की शाम साढ़े पांच बजे सम्मेलन का शानदार आगाज होगा। यहां विभिन्न राज्यों से आए कलाकार 151 नगाड़ों की सामूहिक थाप के साथ समारोह का आगाज करेंगे।

तैयारियों को कलाकारों ने दिया अंतिम रूप

टाटा स्टील के प्रयास से नौ राज्यों के कलाकारों को मिलाकर रिदम ऑफ द अर्थ बैड तैयार किया गया है। पिछले दो दिनों से सभी राज्यों के कलाकार सामूहिक रूप से सोनारी स्थित ट्राइबल कल्चर सेंटर में नया धुन व गीत तैयार कर रहे हैं। गुरुवार को भी सभी कलाकार इसे अंतिम रूप देने में लगे रहे।

दिया जा रहा है गांव का रूप

टाटा स्टील की ओर से बिष्टुपुर स्थित गोपाल मैदान व ट्राइबल कल्चर सेंटर को आदिवासी रूप में सजाया जा रहा है। यहां छोटी-छोटी टोकरियों व धान की बालियों को आकर्षक रूप से सजाया जा रहा है। वहीं, पूरे कार्यक्रम को देखने के लिए मचान, बैठने के लिए लकड़ी के बड़े-बड़े लट्ठ भी रखे गए हैं।

jamshedpur@inext.co.in

Posted By: Kishor Kumar

National News inextlive from India News Desk