वाशिंगटन (पीटीआई)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पुलवामा आतंकी हमले को 'भयानक' बताया है। उन्होंने कहा है कि उनका प्रशासन आतंकवाद के खिलाफ भारत की इस लड़ाई में पूरा साथ देगा। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा है कि दोषियों के खिलाफ पाकिस्तान कड़ी कार्रवाई करे। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा, 'मैंने देखा है। मुझे इस पर बहुत सारी रिपोर्ट मिली हैं। हम सही समय पर  टिप्पणी करेंगे। भारत में आतंकी हमला बहुत ही भयानक था। हमें रिपोर्ट मिल रही है। इससे निपटने के लिए जल्द ही एक नया बयान जारी किया जायेगा। इसके बाद एक अलग प्रेस कांफ्रेंस में, अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि अमेरिका ने इस मामले में भारत सरकार से बात की है और आतंकियों के खात्मे में उनका साथ देने का भी आश्वासन दिया है।

पाकिस्तान के साथ इस मुद्दे पर चल रही बातचीत
विदेश विभाग के प्रवक्ता रॉबर्ट पल्लदीनो ने कहा, 'हम भारत सरकार के साथ मिलकर आतंकवाद से निपटने के लिए प्रतिबद्ध हैं।' उन्होंने कहा कि अमेरिका इस मुद्दे को लेकर  पाकिस्तान से बात कर रहा है। हमने पाकिस्तान से कहा है कि वह इस हमले की जांच में पूरी तरह से सहयोग करे और जिम्मेदार आतंकियों पर कार्रवाई करे। इस आतंकवादी हमले के बाद, ट्रंप के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने भी भारत के सेल्फ डिफेंस के अधिकारों का समर्थन किया है। इसके अलावा विदेश मंत्री माइक पोंपियो, बोल्टन और व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने भी अपने अलग-अलग बयानों में पाकिस्तान को तुरंत जैश-ए-मोहम्मद और उसके आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

कार के जरिये हुआ हमला
बता दें कि बीते गुरुवार को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले में 41 जवान शहीद हुए थे। यह हमला जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी आदिल अहमद ने विस्फोटक कार के जरिए किया। इसके बाद पूरे देश में लोगों में पाकिस्तान के खिलाफ आक्रोश का माहौल बना है।

Pulwama Terror Attack : कोई बच्चे का मुंह न देख सका तो किसी की होने वाली थी शादी, ये शहीद छोड़ गए कुछ एेसी कहानी

Pulwama Terror Attack : तिरंगे में लिपटा पहुंचा जब लाल, नहीं थमीं आंसुआें की धार

International News inextlive from World News Desk