-जनरल टिकट पर एसी-1 में सफर करने से मना करने वाले कंडक्टर को खोज रहे थे

- ऑफिस में मौजूद रेल कर्मचारियों से गाली-गलौज करते हुए किया अभद्र व्यवहार

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: मंगलवार देर रात वाराणसी के एक दबंग विधायक के करीब 50-60 समर्थकों ने इलाहाबाद जंक्शन के टीटी ऑफिस में पहुंच जमकर हंगामा किया. कार्यालय में मौजूद कर्मचारियों से दु‌र्व्यवहार करते हुए शिवगंगा एक्सप्रेस में तैनात कंडक्टर के बारे में पूछताछ की. देर रात तक हंगामा चलता रहा. लेकिन इस घटना के बारे में रेलवे का कोई भी अधिकारी कुछ बता नहीं पा रहा है. न कोई लिखा पढ़ी की गई, और न ही कोई कार्रवाई हुई.

ट्रेन में हुआ था विवाद

मंगलवार रात मंडुवाडीह से नई दिल्ली जाने वाली 12559 शिवगंगा एक्सप्रेस के एसी-1 कोच में वाराणसी के एक दबंग विधायक का परिवार सवार था. मंडुवाडीह से रवाना होने के बाद ट्रेन रास्ते में थी कि ट्रेन के कंडक्टर से एसी-1 कोच में सवार विधायक के परिजनों से किसी बात को लेकर विवाद हो गया. कहा जा रहा है कि विधायक के परिजन जनरल टिकट पर एसी-1 क्लास में सफर कर रहे थे. इसको लेकर ट्रेन कंडक्टर ने विरोध किया और रसीद काटने के लिए कहा. दूसरी तरफ यह भी कहा जा रहा है कि कंडक्टर ने कोच में सवार एक महिला के साथ दु‌र्व्यवहार किया.

रेल कर्मचारियों में आक्रोश

शिवगंगा एक्सप्रेस इलाहाबाद पहुंची भी नहीं थी कि ट्रेन में हुए विवाद की सूचना विधायक को दे दी गई. थोड़ी देर में ही विधायक के करीब 50-60 समर्थक इलाहाबाद जंक्शन पर पहुंच गए. जैसे ही शिवगंगा एक्सप्रेस प्लेटफार्म पर पहुंची समर्थक कंडक्टर को खोजने लगे, लेकिन वह नहीं मिले. इसके बाद विधायक समर्थक प्लेटफॉर्म नंबर एक स्थित टीटी ऑफिस पहुंच गए. टीटी ऑफिस में कंडक्टर के न मिलने पर विधायक के समर्थक संतोष पैलेस स्थित रेस्ट हाउस में पहुंच गए. वहां पर भी समर्थकों ने रेल कर्मचारियों से गाली-गलौज करते हुए दु‌र्व्यवहार किया. आधी रात को अचानक 50-60 लोगों के पहुंचने और गाली-गलौज को लेकर रेल कर्मचारियों में आक्रोश है. लेकिन रेलवे प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है.

बताने से कतराते रहे रेल अधिकारी

स्टेशन मैनेजर राजाराम राजपूत से जब इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने, इस तरह की कोई जानकारी होने से ही इनकार कर दिया. कहा कि मुझे कुछ पता नहीं है. इलाहाबाद मंडल के सीनियर डीसीएम से मंगलवार की रात जंक्शन पर हुए हंगामे के बारे में पूछा गया तो उन्होंने प्रथम दृष्टया इस तरह की कोई जानकारी होने से ही इनकार किया. फिर बातचीत में कहा कि कुछ मामला था, अभी क्लीयर नहीं है. मीटिंग में हूं, बाद में बताता हूं.