- अजबपुर फ्लाईओवर का निर्माण लगभग पूरा,चल रही फिनिशिंग

-आईएसबीटी फ्लाईओवर की ब्रांच रोड तैयार,आखिरी पिलर पर काम

देहरादून

दूनाइट्स को इसी माह दो नए फ्लाईओवर तैयार होने से आसान सफर की सौगात मिल सकती है. इन फ्लाइओवर का निर्माण कार्य आखिरी चरण में है. पहला अजबपुर फ्लाईओवर शहर के आईएसबीटी से एयरपोर्ट जाने वाले वाहन चालकों को राहत देगा तो दूसरा आईएसबीटी फ्लाईओवर हरिद्वार बायपास से दिल्ली रोड जाने वालों को जाम की परेशानी से बचाएगा. इन दोनों फ्लाईओवर के निर्माण से दून के बाहरी हिस्से में बरसों पहले बने हरिद्वार बायपास पर ट्रैफिक की धीमी गति को रफ्तार मिलेगी.

नंबर 1.

90 करोड़ से 900 मीटर लंबा आरओबी:

हरिद्वार बायपास पर सॉलिटेयर होटल के सामने से दूरदर्शन केन्द्र तक बनाया जा रहा अजबपुर रेलवे ओवर ब्रिज की फिनिशिंग चल रही है. एक सप्ताह में आरओबी पर ट्रायल शुरू होने की उम्मीद है. चार लेन के इस आरओबी से शिमला बायपास और दिल्ली रोड से हरिद्वार रोड पर जाने वाले ट्रैफिक को रफ्तार मिलेगी. इस आरओबी के नीचे दोनों तरफ भी दो लेन की सड़क होगी. जिससे स्थानीय टैफिक को फाटक के दोनों तरफ की कॉलोनियों में जाने में सहूलियत रहेगी.

अभी ये काम बाकी:

अजबपुर आरओबी पर अभी पुल की साइडिंग, सड़क की टॉप लेयर निर्माण लाइनिंग,डिवाईडर, लाइट्स और कलर-पेंट का काम बाकी है. निर्माण कार्य कर रही फर्म के इंजीनियर्स का कहना है कि यह काम 10 से 15 दिन में पूरा हो जाएगा.

---------------------------------

नंबर 2.

आईएसबीटी पर टी फ्लाईओवर की लास्ट स्टेज:

हरिद्वार बायपास से आईएसबीटी होकर डाटकाली टनल होते हुए दिल्ली रोड व चंद्रबनी चौक होकर शिमला बायपास जाने वाले वाहनों के लिए सिंगल लेन फ्लाइओवर बनाकर पहले से सहारनपुर रोड पर बने फ्लाईओवर से टी लिंक बनाकर जोड़ा जाना है. टी शेप में बन रही लेन से हरिद्वार बायपास से आने वाले वाहन सीधे फ्लाईओवर पर चढ़कर पुराने आईएसबीटी फ्लाईओवर पर पहुंच जाएंगे. फ्लाईओवर की इस ब्रांच का निर्माण लास्ट स्टेज में है. पुराने फ्लाइओवर से टी ब्रांच लिंक करने के लिए लोहे के भारी बीम अपलोड कर दिए गए हैं. करीब 10 दिन में यह टी ब्रांच मेन फ्लाईओवर से जोड़ दी जाएगी.

एक्सीडेंट का खतरा टालने का नया प्रयोग:

आईएसबीटी पर पहले से बने फ्लाईओवर में नई ब्रांच जोड़ने के लिए एक नया प्रयोग भी किया है. पुराने फ्लाईओवर में नई ब्रांच जुड़ जाने के बाद इस पर ट्रैफिक का दबाव तो बढ़ ही जाएगा, दून शहर की तरफ से आने वाले वाहनों और हरिद्वार बायपास से फ्लाईओवर पर चढ़ने वाले वाहनों के आपस में टकराने का खतरा टालने के लिए पुराने फ्लाईओवर से सटाकर यहां करीब 30 मीटर का ऐसा स्पेस बनाया जा रहा हैं जिस एरिया में सिंगल ब्रांच रोड से आने वाले वाहन कुछ समय के लिए पार्क हो सकेंगे. ऐसे में दून की तरफ से ओ रहे वाहनों से उनके एक्सीडेंट होने का खतरा टल जाएगा. ज्योंही लेन खानी होगी ब्रांच से आ रहे वाहन मेन फ्लाईओवर की लेन में शामिल हो जाएंगे.

आईएसबीटी फ्लाईओवर पर ये काम बाकी:

आखिरी दो पिलर पर बीम रखने बाकी हैं. लोहे के भारी भरकर बीम बनकर तैयार हो चुके हैं एक दो दिन में अपलोड करने की तैयारी है. इसके बाद मेन फ्लाईओवर से ब्रांच को जोड़ने वाले आखिरी दो पिलर पर रखे बीम पर सड़क बनानी है. फ्लाईओवर निर्माण कर रही फर्म का कहना है कि इस काम में 15 से 20 दिन लगेंगे. बाकी ब्रांच लेन बनकर तैयार है.