-पीजी डॉक्टरों की हड़ताल से जांच प्रभावित

-चार दिनों से सेंटर का चक्कर लगा रहे मरीजों के परिजन

ranchi@inext.co.in

RANCHI (24 Mar) : रिम्स में शनिवार को भी रेडियोलॉजी टेस्ट कराने वाले मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. जूनियर डॉक्टरों के पेन डाउन स्ट्राइक पर रहने की वजह से मरीजों की लाइन लगी रही. बाद में डिपार्टमेंट के सीनियर डॉक्टरों और एचओडी ने खुद आकर मोर्चा संभाला. इसके बाद लगातार मरीजों का अल्ट्रासाउंड किया गया. वहीं सिटी स्कैन और एमआरआइ कराने वाले मरीजों को भी दिक्कत हुई. भीड़ अधिक होने के कारण मरीजों को काफी देर तक इंतजार करना पड़ा. जांच कराने वालों में कई मरीज तो ऐसे थे, जो पिछले चार दिनों से सेंटर के चक्कर लगा रहे थे.

सिटी स्कैन-एमआरआइ की रिपोटर् भी अधूरी

रेडियोलॉजी में अल्ट्रासाउंड वाले मरीजों को तो सीनियर डॉक्टर्स ने टेस्ट के बाद रिपोर्ट दे दी. लेकिन सिटी स्कैन और एमआरआइ कराने वालों की रिपोर्ट तैयार नहीं की जा रही है. जूनियर डॉक्टर्स के नहीं होने के कारण एक भी रिपोर्ट तैयार नहीं हो सकी. ऐसे में मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

.....

क्या कहते हैं मरीज

अल्ट्रासाउंड कराने के लिए आए हैं. लेकिन यहां तो कोई डॉक्टर ही नहीं है जो अल्ट्रासाउंड करे. जूनियर डॉक्टरों के हड़ताल पर जाने की खबर मिली है. अब देखिए, हमारे मरीज का अल्ट्रासाउंड कब होता है.

अमन

17 मार्च को नंबर लगाए थे. आज अल्ट्रासाउंड के लिए बुलाया गया था. लेकिन यहां तो काफी देर से डॉक्टर नहीं हैं. एक तो आठ-सात दिन बाद का नंबर मिला. उसमें भी टेस्ट नहीं होगा, तो मरीज का इलाज कैसे होगा.

शबीर

........बॉक्स.......

आश्वासन मिलने के बाद हड़ताल खत्म

जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. अजीत के साथ पीजी डॉक्टरों ने प्रिंसिपल सेक्रेटरी निधि खरे से फोन पर बातचीत की. इस दौरान डायरेक्टर, डिप्टी डायरेक्टर, रेडियोलॉजी डिपार्टमेंट के एचओडी और जूनियर रेजीडेंट्स भी मौजूद थे. जहां सोमवार तक असिस्टेंट प्रोफेसर और सीनियर रेजीडेंट्स की नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकालने का आश्वासन मिला. इसके बाद रेडियोलॉजी के जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल खत्म करने का निर्णय लिया. सोमवार से मरीजों का सामान्य रूप से रेडियोलॉजी टेस्ट किया जाएगा.

Posted By: Inextlive