नई दिल्ली (एएनआई)। कोरोना वायरस संकट के बीच देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए और आत्म निर्भर भारत अभियान को बढ़ाने के लिए सरकार प्रयासरत है। इस दाैरान सोमवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई गई। इस बैठक में सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्योग (एमएसएमई) को लेकर एक बड़ा अहम फैसला लिया गया। केंद्रीय मंत्रियों नितिन गडकरी और नरेंद्र सिंह तोमर के साथ यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि एमएसएमई को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। इस क्षेत्र में 20,000 करोड़ रुपये का निवेश करने का निर्णय लिया गया है। इससे करीब दो लाख यूनिट्स को लाभ होगा।

एमएसएमई एक आत्म निर्भर भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, एमएसएमई एक आत्म निर्भर भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए एमएसएमई को अत्म निर्भर भारत अभियान पैकेज का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में कोरोना वायरस से लड़ने वाले देश के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा की थी, जिसमें कहा गया था कि यह आत्मनिर्भर भारत अभियान को एक नई दिशा देगा।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk