कानपुर। मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में हत्या के प्रयास के आरोप में पुलिस ने मंगलवार को केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल के बेटे प्रबल पटेल और उसके चचेरे भाई को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक करण सिंह ने बताया, 'बेहाली बाजार के पास सोमवार रात दो गुटों के बीच मारपीट हुई। झड़प के बीच बंदूक से गोली चलाई गई, इसमें एक व्यक्ति घायल हो गया। उन्होंने एक पुलिसकर्मी को पीटा। सबूत यह जाहिर करते हैं कि दोनों गुटों के बीच कोई पुराना विवाद था।' उन्होंने कहा कि हमारे पास सबूत हैं कि प्रबल पटेल और मोनू पटेल भी इस मामले में शामिल थे और उनके नाम भी 18 अन्य लोगों के साथ एफआईआर में दर्ज है। दोनों को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 के तहत गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने चार टीमों का गठन किया है।


चीन के बाद जापान में भूकंप का कहर, अब तक 21 लोग घायल


अन्य आरोपियों को भी जल्द पकड़ लेगी पुलिस
बता दें कि बंदूक की गोली से घायल होने वाले पीड़ित की पहचान हिमांशु राठौर के रूप में हुई है। बाद में एक अन्य पुलिस अधिकारी पीएस वारले ने कहा, 'मुख्य आरोपी प्रबल पटेल समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हम बाकी आरोपियों को भी बहुत जल्द ही पकड़ लेंगे।' फिलहाल, केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल ने अपने बेटे की गिरफ्तारी पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है और कहा कि कानून अपना काम करेगा। उन्होंने कहा, 'मैं कह सकता हूं कि यह सब दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। कानून अपना काम करेगा, मैं कोई और टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं।'

 

Crime News inextlive from Crime News Desk