- नकलविहीन परीक्षा के लिए बनाए जा रहे हाईटेक सर्विलांस सेंटर

-एक स्क्रीन पर देखी जाएंगी 10 एग्जाम सेंटर्स की एक्टिविटी

- गोरखपुर में छह स्कूल हुए डिबार, अगले साल फरवरी से शुरू होनी है यूपी बोर्ड परीक्षा

GORAKHPUR: गोरखपुर के सीएम सिटी होने की वजह से बोर्ड एग्जाम भी इस बार हाईटेक हो गया है। फरवरी माह से शुरू होने वाले यूपी बोर्ड के हाईस्कूल और इंटर के एग्जाम की ऑनलाइन निगरानी के लिए यहां 20 हाईटेक सर्विलांस सेंटर बनाए जा रहे हैं जिससे जिले के 200 एग्जाम सेंटर्स पर एक साथ कैमरे से निगरानी हो सके। यूपी बोर्ड वर्ष 2020 एग्जाम के लिए करीब 200 केंद्र बनाए जाएंगे। इन संभावित परीक्षा केंद्रों पर कैमरे लगाए जा चुके हैं, साथ ही राउटर लगाए जा रहे हैं। राउटर से कनेक्ट कर ही सभी स्कूलों में लगे कैमरे की लाइव क्लिपिंग एक साथ एक जगह से देखी जा सकेगी। यूपी बोर्ड एग्जाम में इस बार कुल एक लाख 47 हजार चार सौ दस स्टूडेंट्स एग्जाम देंगे। वहीं नकल को रोकने के लिए छह स्कूल्स को डिबार किया गया है।

एक स्क्रीन से दस स्कूलों पर नजर

एजुकेशन डिपार्टमेंट के अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक हाईटेक सर्विलांस सेंटर को कलेक्ट्रेट स्थित एनआईसी भवन या राजकीय जुबिली इंटर कॉलेज के परिसर में बनाया जाएगा। जिसके अंतर्गत दस-दस स्कूलों की एक्टिविटी को एक कैमरे पर देखने की योजना बनाई गई है। एग्जाम सेंटर्स को दस-दस स्कूलों के समूहों में बांटा जाएगा। एक स्क्रीन पर दस स्कूलों की एक्टिविटी कैमरे के जरिए देखी जा सकेगी। जहां भी गड़बड़ी दिखेगी वहां मौजूद ऑपरेटर तत्काल उड़ाका दल को सूचना देगा।

ऑपरेटर रखेंगे नजर

हाईटेक सर्विलांस सेंटर में लगभग 20 स्क्रीन के जरिए पूरे जिले के एग्जाम सेंटर्स पर नजर रखे जाने की तैयारी है। इसके लिए प्रशासन एवं डिपार्टमेंट के टेक्निकल एक्सप‌र्ट्स को जिम्मेदारी दी जाएगी। एक स्क्रीन पर एक टेक्निकल एक्सपर्ट होगा जो क्लिप बदल-बदल अपने समूह के दसों स्कूलों पर नजर रखेगा। इसके साथ ही पूरे सेंटर पर नजर रखने और संचालन करने के लिए एक नोडल अधिकारी जिलाधिकारी द्वारा बनाया जाएगा।

बॉक्स

कम हुई बोर्ड कैंडिडेट्स की तादाद

यूपी बोर्ड एग्जाम में सख्ती की वजह से इस बार कैंडिडेट्स की संख्या कम हुई है। पिछले वर्ष की तुलना में इस साल 4577 स्टूडेंट कम रजिस्टर्ड हुए हैं। पिछले साल कुल एक लाख 51 हजार नौ सौ सत्तासी स्टूडेंट्स रजिस्टर्ड थे। इस साल एक लाख 47 हजार चार सौ दस छात्र बोर्ड एग्जाम देंगे। पिछले साल 2019 बोर्ड एग्जाम में हाई स्कूल में 81157 रेग्युलर और 638 प्राइवेट छात्र-छात्राओं का रजिस्ट्रेशन हुआ था। इस साल 2020 की बोर्ड परीक्षा में हाई स्कूल में 78522 रेग्युलर और 262 प्राइवेट स्टूडेंट रजिस्टर्ड हुए हैं। वहीं इंटरमीडिएट में पिछले साल 68529 रेग्युलर और 1663 प्राइवेट स्टूडेंट रजिस्टर्ड हुए थे। वहीं 2020 के बोर्ड एग्जाम में 67465 रेग्युलर और 1161 प्राइवेट स्टूडेंट रजिस्टर्ड हुए हैं।

बॉक्स

छह स्कूल हुए डिबार

गोरखपुर में छह स्कूलों को इस बार नकल रोकने के लिए डिबार कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार चौरीचौरा, सहजनवां, जगदीशपुर, खोराबार, मोहरीपुर और कुंवरपुर के एक-एक स्कूलों को डिबार किया गया है।

वर्जन

बोर्ड एग्जाम हर हाल में नकलविहीन कराना है। इसके लिए हाईटेक सेंटर के जरिए पूरे जिले के स्कूलों पर नजर रखी जा सकेगी। केंद्रों में कैमरे लगाना अनिवार्य हैं। कई परीक्षा केंद्रों पर राउटर भी लग गए हैं।

ज्ञानेन्द्र प्रताप सिंह भदौरिया, डीआईओएस

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner