अमरोहा (आईएएनएस)। सोमवार को ईद का त्यौहार बड़े जश्न के साथ मनाया गया। चूंकि इस समय लॉकडाउन लगा हुआ है, ऐसे में सभी ने सामाजिक दूरी बनाए रखी। इस बीच ईद के मौके पर यूपी के अमरोहा में सांप्रदायिक सद्भाव की मिसाल देखने को मिली। उत्तर प्रदेश पुलिस के एक सिपाही और एक इंस्पेक्टर की तस्वीर, दोनों अलग-अलग समुदायों से हैं, उनकी एक साथ प्रार्थना करते हुए सोशल मीडिया पर वायरल हुई है।

नमाज के साथ प्रार्थना करते तस्वीर वायरल

कांस्टेबल, असगर खान जो हसनपुर क्षेत्र के ईदगाह मैदान में नमाज अदा कर रहे थे। तो उनके बगल में खड़े इंस्पेक्टर आरपी शर्मा पास हाथ जोड़कर प्रार्थना कर रहे थे। यह तस्वीर ईद पर अमरोहा के हसनपुर शहर में क्लिक की गई थी। कांस्टेबल असगर खान को ईदगाह में तैनात किया गया था। यहां पुलिस प्रशासन ने मुसलमानों से अपने घरों में प्रार्थना करने की अपील की। चूंकि असगर ड्यूटी पर तैनात थे इसलिए उन्होंने वहीं नमाज पढऩे का फैसला लिया। इस बीच, हसनपुर एसएचओ आर.पी.शर्मा, वहां पहुंचे, वह भी कांस्टेबल के साथ प्रार्थना में शामिल हुए। इसके बाद एक पुलसकर्मी की नमाज पढ़ते और दूसरे पुलिस कर्मी की प्रार्थना करते हुए तस्वीर देखते ही देखते वायरल हो गई।

हनुमान चालीसा भी जानते हैं असगर

एसएचओ शर्मा ने कहा, "असगर एक सज्जन व्यक्ति हैं। वह मेरे भाई की तरह हैं। वह अपने कर्तव्य का निर्वहन बड़ी निष्ठा से करते हैं। हसनपुर के लोग उनकी बात सुनते हैं। इसलिए मैंने ईदगाह में स्थानीय मुसलमानों से ईद नमाज़ के लिए इकट्ठा नहीं होने देने का आग्रह करने के लिए उन्हेंं प्रतिनियुक्त किया था, जिसे उन्होंने बिना किसी समस्या के प्रबंधित किया। चूंकि उनकी ड्यूटी ने उन्हेंं प्रार्थना करने से रोका था, इसलिए उन्होंने जमीन पर ही तौलिया बिछाकर नमाज अदा की। सभी भारतीयों के कल्याण के लिए प्रार्थना करते हुए, मैंने भी उससे जुडऩे का फैसला किया।' इंस्पेक्टर ने बताया, असगर 'गायत्री मंत्र' और हनुमान चालीसा जानते हैं, और हमेशा सभी धाॢमक कार्यों में भाग लेते हैं।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

National News inextlive from India News Desk