- उर्स-ए-आला हजरत को लेकर प्रशासन ने अफसरों और कर्मियों की जिम्मेदारी तय करने का काम किया शुरू

बरेली. तीन दिनों तक <- उर्स-ए-आला हजरत को लेकर प्रशासन ने अफसरों और कर्मियों की जिम्मेदारी तय करने का काम किया शुरू

बरेली. तीन दिनों तक ((ख्फ्, ख्ब् और ख्भ् अक्टूबर) चलने वाले उर्स-ए-आला हजरत को लेकर प्रशासन ने तैयारियां तेज कर दी हैं. देश-विदेश से लाखों की संख्या में आने वाले जायरीनों की सुविधाओं के लिए अफसरों-कर्मियों को जिम्मेदारी बांटी जा रही है. किसको क्या जिम्मेदारी दी गई है, उसके लिए एक बुकलेट तैयार कराई जा रही है. इसमें जिम्मेदार का नाम व पता दोनों होंगे. इसके लिए एडीएम सिटी महेंद्र कुमार सिंह ने संबंधित विभागों के अधिकारियों-कर्मचारियों के नाम, मोबाइल नबंर और एड्रेस के डिटेल्स उपलब्ध कराने का आदेश दिया है.

हटाई जाएगी निमार्ण सामग्री

उर्स के दौरान ट्रैफिक व्यवस्था को ठीक करने के लिए चौपला चौराहा, सैटेलाइट बस स्टैंड, लाल फाटक और आईवीआरआई में बन रहे फ्लाईओवर का काम तीन दिन के लिए बंद हो सकता है. एडीएम सिटी ने इन फ्लाईओवर्स के निर्माण के लिए सड़क किनारे रखे बिल्डिंग मैटेरियल एवं बेरिकेडिंग को हटाने का आदेश दिया है. इसके लिए उन्होंने सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक को लेटर भी भेजा है.

सड़कों की होगी मरम्मत

नगर निगम भी तैयारियों में जुटा है. जायरीनों के आने-जाने वाले मार्गो की मरम्मत कराई जाएगी. जसौली नाला रोड पर टक्कर की पुलिया और खलील स्कूल में जल निकाली की समस्या दूर होगी.

पानी सप्लाई भी भी व्यवस्था

पानी की ख्ब् घंटे आपूर्ति के लिए इस्लामिया ग्रांउड के समीप स्थित किशोर बाजार नलकूप से उर्स स्थल तक अस्थाई रूप से पाइप लाईन बिछाई जाएगी. जिसके माध्यम से एक हजार लीटर क्षमता के चार वॉटर स्टोरेज टैंक भरे जाएंगे. इसी तरह जायरीनों के ठहरने वाले स्थानों पर पानी के क्भ् टैंकर रख्ो जाएंगे.

स्वच्छ भारत का देंगे संदेश

उर्स स्थल और उसके आस-पास फ्भ् और मथुरापुर मदरसा में क्भ् डस्टबिन रखे जाएंगे. इन डस्टबिन्स पर निगम स्वस्छ भारत मिशन का लोगो भी लगाएगा.

यहां बनेंगे अस्थाई टॉयलेट

इस्लामिया इंटर कॉलेज : 80 अस्थायी टॉयलेट और भ्0 अस्थायी यूरिनल

मथुरापुर मदरसा सीबीगंज : ख्0 अस्थायी टॉयलेट. इसके अलावा सिटी पोस्ट ऑफिस व आला हजरत दरगाह के आस-पास भी अस्थायी टॉयलेट बनाए जाएंगे.