पेरिस (रॉयटर्स)। अमेरिकी राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा बोर्ड (एनटीएसबी) ने ईरान की तरफ से तेहरान में एक यूक्रेनी हवाई जहाज की दुर्घटना में जांच में भाग लेने का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। एजेंसी ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि की। एनटीएसबी ने एक बयान में कहा कि उसके रिस्पॉन्स ऑपरेशंस सेंटर ने बुधवार को ईरान की ओर से बोइंग 737-800 के दुर्घटनाग्रस्त होने की औपचारिक सूचना प्राप्त की थी, जिसमें सभी 176 लोग मारे गए थे।

दुर्घटना के आसपास के इलाकों की निगरानी करेगा एनटीएसबी

एजेंसी ने कहा, 'एनटीएसबी ने दुर्घटना की जांच में शामिल होने का न्योता स्वीकार कर लिया है।' वहीं, ईरान के एक अधिकारी ने भी रॉयटर्स को बताया है कि एनटीएसबी भी दुर्घटना की जांच में शामिल होगा, एजेंसी की तरफ से न्योता पर जवाब मिल गया है। इस मामले पर जानकारी देने वाले एक व्यक्ति ने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि कोई भी प्रतिनिधि अमेरिकी प्रतिबंधों के तहत क्या कर पाएगा। एनटीएसबी ने अपने बयान में कहा कि वह दुर्घटना के आसपास की स्थिति की निगरानी करेगा और जांच में अपनी भागीदारी के स्तर का मूल्यांकन करता रहेगा।

फ्रांस को जांच में हो सकता है शामिल

बोइंग 737-800NG जेट के डिजाइन और निर्माण के चलते अमेरिका को वैश्विक नियमों के तहत भाग लेने की अनुमति है। संयुक्त राष्ट्र के तहत इंटरनेशनल सिविल एविएशन में ईरान के प्रतिनिधि फरहाद परवरेश रॉयटर्स को फोन पर बताया कि कनाडा ने भी एक विशेषज्ञ को नियुक्त किया है, जबकि यूक्रेन की एक टीम ने गुरुवार को तेहरान में दुर्घटना पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि ईरान मान्यता प्राप्त जांचकर्ताओं के लिए कांसुलर सुविधाएं और वीजा देने के लिए तैयार है। परवरेश ने बताया कि स्वीडन और अफगानिस्तान को भी सूचित किया गया है, फ्रांस भी इसमें शामिल हो सकता है क्योंकि यह उन देशों में से एक है जहां इंजन बनाए गए थे।

Iran Ukrain Plan Probe: ईरान के जांचकर्ताओं ने कहा, यूक्रेनी विमान ने क्रैश से पहले नहीं मांगी मदद

ईरान ने अमेरिका और कनाडा के आरोप को किया खारिज

बता दें कि गुरुवार को अमेरिका और कनाडा ने ईरान पर विमान को मार गिराने का आरोप लगाया था। परवरेश ने इस आरोप को खारिज कर दिया है और कहा है कि ईरान दुर्घटना के लिए एक पूर्ण और पारदर्शी जांच के लिए प्रतिबद्ध है। परवरेश ने मरने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, 'ईरानियों के रूप में हम इस त्रासदी और आपदा को अपने लिए और परिवारों के लिए महसूस करते हैं।'

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk