वाशिंगटन (एएनआई)। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को फाइनेंशियल रिकार्ड से जुड़े तीन अलग-अलग मामलों में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अपील पर सुनवाई के लिए तैयार हो गया है। अदालत मार्च में दलील सुनेगी। ट्रंप के वकील जे सेकुलो ने एक बयान में कहा, 'हमें खुशी है कि सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति के तीन लंबित मामलों की समीक्षा की इजाजत दी। ये मामले महत्वपूर्ण संवैधानिक मुद्दे उठाते हैं। हम अपने लिखित और मौखिक तर्क प्रस्तुत करने के लिए तत्पर हैं।'

तीन मामलों में जारी किया गया है समन

डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से ट्रंप के खिलाफ संपत्ति से जुड़े दो मामले दर्ज हैं। एक में, हाउस ओवरसाइट एंड रिफॉर्म कमेटी ने ट्रंप के सालों तक के व्यक्तिगत और कॉर्पोरेट वित्तीय रिकॉर्ड के लिए ट्रंप की अकाउंटिंग फर्म, मजर्स यूएसए को समन जारी किया है। दूसरे में, राष्ट्रपति ट्रंप और उनके व्यवसायों से संबंधित वित्तीय दस्तावेजों के लिए हाउस फाइनेंशियल सर्विसेज और इंटेलिजेंस समितियों ने ड्यूश बैंक और कैपिटल वन को समन जारी किया है। वहीं, तीसरे केस में ट्रंप के व्यक्तिगत इनकम टैक्स रिटर्न से जुड़ी जानकारी के लिए मजर्स यूएसए को एक समन जारी किया गया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले हफ्ते ड्यूश बैंक से अपने वित्तीय रिकॉर्ड के लिए कांग्रेस के एक उप-सदस्य को अस्थायी रूप से ब्लॉक करने के अमेरिकी राष्ट्रपति के आपातकालीन अनुरोध को मंजूरी दे दी थी।

राष्ट्रपति चुनाव से पहले ट्रंप देंगे अपनी संपत्ति का ब्योरा

विपक्षियों ने बनाया ट्रंप की संपत्ति को मुद्दा

बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सितंबर में कहा था कि वह अगले साल तीन नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के मतदान से पहले अपनी संपत्ति का ब्योरा जारी करेंगे। हालांकि, तब उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि वह अपना टैक्स रिटर्न का ब्योरा सार्वजनिक करेंगे या नहीं। इसी मामले को लेकर विपक्षी नेता उनपर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव है और विपक्षी नेता ट्रंप की संपत्ति वाले मुद्दे को हवा देकर इलेक्शन में पूरा फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk