11 जगह कराए जा रहे हैं एंटीजन टेस्ट, एक घंटे में मिलती है रिपोर्ट

03 जगह होती है ट्रूनाट मशीन से जांच

04 जगह आरटीपीसीआर से टेस्ट है अवलेबल

----------------------

- कोरोना का लक्षण होने पर आरटीपीसीआर से होती है पुष्टि

कोरोना की जांच कराना अब पहले की तरह कठिन नहीं है। लोग चाहे तो आसानी से टेस्ट करा सकते हैं। सिटी में कोरोना की अलग-अलग तरह की जांच के 18 सेंटर मौजूद हैं। इनमें रोजाना हजारों की संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। जांच की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग लगातार नए सेंटर खोल रहा है। ऐसे में लोगों के लिए कोरोना की जांच कराना मुश्किल नहीं रहा है।

11 जगहों पर एंटीजन टेस्ट

कोरोना की एंटीजन किट से जांच कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने शहर में 11 सेंटर बनाए हैं। इनमें कोई भी व्यक्ति जाकर अपना सैंपल दे सकता है। एक घंटे के बाद उसे रिपोर्ट भी बता दी जाती है। लक्षण होने के बावजूद निगेटिव रिजल्ट आने पर व्यक्ति की दोबारा आरटीपीसीआर से सैंपल की जांच कराई जा सकती है। रोजाना हजारों लोग इस जांच का लाभ ले रहे हैं। यह जांच पूरी तरह निशुल्क है।

यहां हो रही कोविड की एंटीजन किट से जांच

- पीएचसी दारागंज

- नंद किशोर इंटर कॉलेज धूमनगंज

- अर्नी मेमोरियल इंटर कॉलेज स्टेनली रोड

- मजीदिया इस्लामिया इंटर कॉलेज अटाला करेली

- एडीसी कीडगंज शाखा

- एडीसी बेनीगंज शाखा

- केपी इंटर कॉलेज

- गांधी इंटरमीडिएट कॉलेज शेरडीह झूंसी

- प्राथमिक पूर्व माध्यमिक बालिका विद्यालय फाफामऊ

- सेंट बेथनी कांवेंट स्कूल नैनी

- एमएनएनआईटी परिसर

ट्रूनाट से कराइए जांच

कोविड की ट्रूनाट मशीन से भी जांच उपलब्ध है। शहर में तीन जगह यह मशीन लगाई गई है। इनमें से दो जगह सरकारी और एक जगह प्राइवेट हॉस्पिटल में इस मशीन से जांच की जा रही है। इस मशीन में भी जल्द रिजल्ट सामने आ जाता है। वर्तमान में काल्विन और एसआरएन हॉस्पिटल में ट्रूनाट मशीन से कोरोना की जाचं की जा रही है। इसके अलावा सिविल लाइंस के वात्सल्य हॉस्पिटल में भी इस मशीन के जरिए कोरोना की जांच हो रही है।

चार जगह आरटीपीसीआर जांच

लोग चाहें तो आरटीपीसीआर मशीन से भी जांच करा सकते हैं। एसआरएन हास्पिटल के अलावा तीन प्राइवेट लैब लाल पैथ लैब, पैथकाइंड और एसआरएल में भी जांच की जा रही है। तीनों जगहों पर जांच की फीस ढाई हजार निर्धारित है और जांच रिपोर्ट आने में मिनिमम 48 घंटे का समय लग जाता है। यही हाल एसआरएन हॉस्पिटल का भी है। यहां जांच निशुल्क है लेकिन रिपोर्ट आने में देरी की शिकायत मिलती रहती है।

इन लक्षणों के आने पर कराइए जांच

- खांसी

- बुखार

- सांस लेने में तकलीफ

- स्वाद और गंध का अहसास न होना

कोरोना की जांच को लेकर शहर में तमाम आप्शन मौजूद हैं। हर तरह की जांच उपलब्ध है। इसका परपज है कि पेशेंट रोग को लेकर जरा भी देर न करे। फटाफट जांच कराकर अपना इलाज शुरू करा दे जिससे उसको ठीक किया जा सके।

डॉ। मेजर गिरिजाशंकर बाजपेई, सीएमओ प्रयागराज