- एमएनएनआईटी का मामला, कर्मचारी के खिलाफ दर्ज करवाई गई एफआईआर

- सरकारी काम में बाधा डालने की भी धारा लगी

ALLAHABAD:

एमएनएनआईटी में रजिस्ट्रार ऑफिस की विजिट के दौरान डायरेक्टर पी चक्रबर्ती के साथ कांट्रेक्ट कर्मचारी रविशंकर शुक्ला ने अभद्रता की व धमकी दी। विवाद विजिट के दौरान कामकाज को लेकर टोकाटाकी पर हुआ था। आरोप है कि कर्मचारी कुछ पूछने पर हत्थे से उखड़ गया और गालियां बकने लगा। कर्मचारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई तो की ही जा रही है, शिवकुटी में एफआईआर भी दर्ज करवा दी गई। उसके खिलाफ धारा सरकारी कार्य में बाधा डालने की भी लगवाई गई है।

सिक्योरिटी गार्ड ने दर्ज करवाई रिपोर्ट

रविशंकर के खिलाफ एफआईआर सिक्योरिटी गेट मैन धर्मेद्र सिंह ने दर्ज करवाई। घटना बुधवार दिन की बताई गई है। डायरेक्टर रजिस्ट्रार ऑफिस की रेग्युलर विजिट पर थे। उनके साथ पूरा अमला मौजूद था। डायरेक्टर की पीए श्वेता के मुताबिक विजिट के दौरान रविशंकर शुक्ला से भी कुछ पूछताछ हुई तो वह भड़क गया और अभद्र भाषा का प्रयोग करने लगा। डायरेक्टर के सामने तूतू-मैंमैं होने लगी तो पूरी बिल्डिंग के कर्मचारी वहां जुट गए। सिच्युएशन काफी खराब हो गई तो डायरेक्टर वहां से चले गए। इसके बाद देर शाम शिवकुटी थाने पर तहरीर दे दी गई। एफआईआर तो दर्ज कर ली गई लेकिन एमएनएनआईटी ने क्या कार्रवाई की, इसकी जानकारी नहीं मिल सकी। जांच एसआई उदय नारायण सिंह को सौंपी गई है।

बाक्स

बेटा बोलने पर भड़का

एमएनएनआईटी में चर्चा रही कि विजिट के दौरान रविशंकर को डायरेक्टर ने बेटा कहा था, जिसके बाद वह भड़क गया था। हालांकि इस मामले की पुष्टि नहीं हो सकी है।