- यूपीपीएससी की वेबसाइट पर शुल्क व अन्य ब्योरे हैं उपलब्ध, 14 दिसंबर तक लिए जाएगा आनलाइन आवेदन

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग इन दिनों पीसीएस मुख्य परीक्षा 2020 के लिए आनलाइन आवेदन ले रहा है। निर्देश है कि मुख्य परीक्षा में प्रतियोगी का अनुक्रमांक वही रहेगा जो प्रारंभिक परीक्षा में जारी किया गया था। इसके अलावा वेबसाइट पर हर वर्ग के अभ्यर्थियों की ओर से जमा होने वाले शुल्क, विषय के अलावा अन्य तमाम जानकारियां मुहैया कराई गई हैं, ताकि आवेदन करने में किसी तरह का असमंजस नहीं रहे। आयोग आनलाइन 14 दिसंबर तक लेगा।

24 नवंबर को घोषित हुआ था प्री एग्जाम का रिजल्ट

यूपीपीएससी ने 24 नवंबर को पीसीएस 2020 की प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम घोषित किया था। इसमें 5535 अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए सफल हुए थे। इन्हीं अभ्यर्थियों से इन दिनों आनलाइन आवेदन लिए जा रहे हैं। निर्देश है कि आवेदन में गलती होने पर अभ्यर्थी 14 दिसंबर तक एक बार उसे सुधार भी सकते हैं। आनलाइन भरे आवेदन को प्रिंट कर और संबंधित प्रमाणपत्र संलग्न करके 21 दिसंबर की शाम पांच बजे तक आयोग कार्यालय डाक के माध्यम से भेजना है।

आयोग की ओर से कहा गया है कि इस भर्ती का विज्ञापन 21 अप्रैल को जारी हुआ था और 21 मई तक न्यूनतम शैक्षिक अर्हता पूरा करने वाले ही अर्ह होंगे। सभी अभ्यर्थियों को शैक्षिक अर्हता की पुष्टि के लिए सभी प्रमाणपत्र, अंकतालिका, उपाधियों की स्वप्रमाणित प्रतियां आवेदन के साथ भेजना अनिवार्य है। यह न मिलने पर अभ्यर्थन निरस्त हो जाएगा। ऐसे ही अभ्यर्थी ने जिस श्रेणी के लिए आवेदन किया है उसकी भी स्वप्रमाणित प्रति भेजी जाए।

ये शुल्क

सामान्य, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग व पिछड़ा वर्ग - 225

एससी व एसटी - 105

क्षैतिज आरक्षण का लाभ पाने वाले अभ्यर्थी अपनी मूल श्रेणी के अनुसार शुल्क जमा करेंगे, वहीं विकलांग अभ्यर्थी केवल आनलाइन शुल्क 25 रुपये जमा करें।

इन विषयों की होगी परीक्षा

मुख्य परीक्षा में अनिवार्य व वैकल्पिक विषय होंगे। अभ्यर्थियों को वैकल्पिक में से किसी एक विषय का चयन करना होगा उसके दो पेपर होंगे। अनिवार्य विषय के छह प्रश्नपत्र हैं, जबकि वैकल्पिक 29 विषयों की सूची दी गई है। उनका नाम व कोड सही से भरना है बाद में उसमें परिवर्तन नहीं होगा।

पांच वर्गो की अर्हता तय

आयोग ने वेबसाइट पर चयन किए जाने वाले पांच वर्गो की अर्हता आदि स्पष्ट की है। अभ्यर्थी उसे देख सकते हैं। परीक्षा तीन शहरों प्रयागराज, लखनऊ व गाजियाबाद में कराई जाएगी। पेपर ¨हदी व अंग्रेजी दो भाषाओं में होंगे।