-शहर में साफ-सफाई के हालात देखने निकले नगर आयुक्त को मिलीं खामियां

-जगह-जगह मलबे का ढेर देख अधिकारियों को दिए तत्काल कार्रवाई के निर्देश

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: यूं तो प्रयागराज स्वच्छता रैंकिंग में टॉप-20 में है। लेकिन ग्राउंड लेवल पर सफाई जीरो है। शहर में सफाई के इंतजाम की बदहाली का सच गुरुवार को साहब ने भी अपनी आंखों से देखा। जगह-जगह गंदगी और मलबे का ढेर देख उनके तेवर भी तल्ख हुए। अधिकारियों-कर्मचारियों को सुधार की ताकीद भी की गई। असल में नगर आयुक्त रवि रंजन ने गुरुवार को कई वार्डो का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने हालात पर नाराजगी जताई और व्यवस्था बेहतर करने के निर्देश दिए।

बख्शे न जाएं मलबा फेंकने वाले

नगर आयुक्त के निरीक्षण के दौरान शहर में गंदगी की पोल खुल गई। चौफटका और राजरूपपुर में कई जगहों पर सड़क किनारे मलबा का ढेर दिखा। कुछ ऐसा ही हाल थॉर्नहिल रोड, लाउदर रोड और पन्नालाल रोड पर भी दिखा। वहीं झलवा चौराहे के पहले सड़क की पटरी कबाड़ से भरी पड़ी थी। हालात देख नगर आयुक्त ने मुख्य अभियंता व अधिशाषी अभियंता को सफाई करवाने और मलबा फेंकने वालों से जुर्माना वसूली के भी निर्देश दिए। इस दौरान ओम प्रकाश सभासद मार्ग, एनसीआर मुख्यालय के पास दोनों रोड पटरी पर काफी गंदगी मिली। कालिंदीपुरम चौराहे से झलवा चौराहे तक कई हॉटस्पाट मिले। इसके सम्बन्ध में जोनल अधिकारी एवं सफाई व खाद्य निरीक्षक जरूरी दिशानिर्देश दिए गए।

स्ट्रीट लाइट ठीक कराने के निर्देश

चौफटका से एयरपोर्ट तक लगभग 100 स्ट्रीट लाइट्स खराब मिलीं। इस पर नाराजगी जताते हुए नगर आयुक्त ने प्रभारी अधिकारी विद्युत को फटकार लगाई। स्ट्रीट लाइट्स सही कराने के निर्देश भी दिए। चौफटका से झलवा चौराहे तक कई स्थानों एवं रोड पर आवारा पशुओं का झुंड दिखाई दिया। इस पर प्रभारी पशुधन अधिकारी को तत्काल पशुपालकों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया गया। सíकट हाउस के पास व धोबीघाट चौराहे से इंडियन प्रेस चौराहे तक रोड पटरी पर लगे हुए ग्रिल के अंदर झाडि़यां एवं गंदगी मिलीं। हैप्पी होम से मुंडेरा होते हुए चौफटका तक रोड पटरी पर लगे ग्रिल के अन्दर झाडि़यों की सफाई के लिए जोनल अधिकारी को निर्देशित किया गया।