- यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट एग्जाम का फर्जी टाइम-टेबल सोमवार को सोशल मीडिया पर हुआ था वायरल

8 मई से शुरू होने वाली यूपी बोर्ड की परीक्षा पिछले दिनों प्रदेश सरकार की ओर से स्थगित कर दिया गया था, अब अगली डेट को लेकर स्टूडेंट्स इंतजार कर रहे थे, इसी बीच सोमवार को हाईस्कूल और इंटरमीडिएट एग्जाम का फर्जी टाइम-टेबल सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जिसमें 5 जून से 25 जून 2021 तक परीक्षा होने की बात कही गई है। इस फर्जी बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम को लेकर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद सचिव ने नकारते हुए कहा है कि यह परीक्षा कार्यक्रम बिल्कुल फर्जी है, यूपी बोर्ड ने अभी तक कोई परीक्षा कार्यक्रम तैयार नहीं किया है। जो भी इस फर्जी शिड्यूल को जारी किया है उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जायेगी।

कोरोना संक्रमण की वजह से स्थगित की गई थी परीक्षा

इस साल यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए करीब 56 विद्याíथयों ने पंजीकरण कराया था। यूपी बोर्ड की परीक्षाएं इस साल 08 मई से शुरू होनी थीं लेकिन कोरोना महामारी के चलते इन्हें स्थगित कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि 15 अप्रैल 2021 को उत्तर प्रदेश सरकार ने हाईस्कूल और इंटर की परीक्षाओं को स्थगित करने का फैसला किया था। सरकार ने यह फैसला राज्य में पंचायत चुनाव की तिथियों में बदलाव और कोरोना संक्रमण को देखते हुए लिया था।

यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट एग्जाम का एक शेड्यूल सोमवार को वायरल हुआ। जिसमें 5 जून से 25 जून 2021 तक परीक्षा होने की बात कही गई है। वह पूरी तरह से फर्जी है। इस फर्जी शेड्यूज को जारी करने में जो भी दोषी पाया जायेगा, उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया जायेगा।

दिव्यकांत शुक्ल, सचिव, यूपी बोर्ड