- बरेली विकास प्राधिकरण ने शमन योजना 2020 लागू कर दी

- बिना नक्शे के भवन को पास कराने के लिए जनवरी तक मौका

बरेली : बिना नक्शा पास कराए अवैध निर्माण करने वालों के लिए यह खबर काम की है। बरेली विकास प्राधिकरण ने शहरवासियों के लिए शमन योजना 2020 की शुरुआत कर दी है। इस योजना के तहत 21 जुलाई 2020 से पहले किए गए नक्शे के विरुद्ध अवैध निर्माण को शमन शुल्क अदा कर वैध कराया जा सकेगा। इस योजना के तहत आवेदन करने वाले को अपने अवैध निर्माण को वैध कराने का मौका 20 जनवरी 2021 तक दिया गया है।

बीडीए ने इस योजना की शुरुआत 21 जुलाई से करने की घोषणा की है। बीडीए में कंपाउंडिंग और सेटबैक से संबंधित तकरीबन हजारों मामले दर्ज हैं। ऐसे में इस नई योजना की शुरुआत के बाद कई अलग अलग आवासीय और व्यावसायिक योजनाओं से भी आवेदन आने की संभावना है। इस योजना में बीडीए की कई योजनाओं को भी शामिल किया जाएगा।

प्राधिकरण को भी होगा फायदा

बरेली विकास प्राधिकरण इस योजना को लेकर खासा उत्साहित है। आर्थिक संकट से जूझ रहे बीडीए को अब झोली भरने का मौका मिलेगा। आंकड़ों के मुताबिक 5000 से अधिक आवेदन इस योजना के तहत बीडीए को मिलने की उम्मीद है। जिससे करोड़ों रुपए की बीडीए की आर्थिक आय भी होगी। इससे पहले शासन की तरफ से उपविधि 2010 योजना को लागू कर रखा थाए जिससे प्राधिकरण को ज्यादा आमदनी नहीं हुई। कई सालों से शहर में नक्शे के विरुद्ध अंधाधुंध निर्माण किया गया हैए यही वजह है कि अब इस योजना में बीडीए को अधिक आवेदन के साथ साथ करोड़ों की आय की संभावना भी है। बीडीए इस बार अवैध निर्माण भवनों पर अभियान चलाकर इस योजना से जोड़ेगा।

आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन

शमन योजना 2020 के लिए प्राधिकरण ने बिना नक्शा के भवन बनाने वालों को सहूलियत देने के लिए ऑनलाइनए ऑफ लाइन आवेदन करने की प्रक्त्रिया शुरू कर दी है। प्राधिरकरण की वेबसाइट पर लॉगइन करके आवेदन करने की सहूलियत दी है। बीडीए ने लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर 9568006442, 9568006091 जारी किए है। आवेदन की प्रक्त्रिया शुरू हो गई हैए जो अगले 6 महीने तक योजना में नक्शे के विपरीत अवैध निर्माण को वैध कराने के लिए आवेदन किए जा सकेंग। आवेदन की आखिरी तारीख 20 जनवरी 2021 रखी गई हैए नई योजना लोगों को कम जुर्माना भरने के साथ.साथ निर्माण को वैध कराने का भी मौका मिला है।

वर्जन

शासनादेश के बाद प्राधिकरण ने 21 जुलाई 2020 से शमन योजना 2020 को लागू कर दिया है। योजना 6 माह तक जारी रहेगी। इस अवधि में शासन की पूर्व शमन उपविधि 2010 स्थगित कर दी गई है। इस योजना से लोग फायदा उठा सकते है। इसके लिए उन्हें आवेदन करना होगा।

दिव्या मित्तल, वीसी, बीडीए