-बरेली के धौराटांडा में युवक को पहले बताया पॉजिटिव, बाद में निगेटिव

- डीएसओ ने लैब एक्जीक्यूटिव को किया जवाब-तलब

बरेली : फ्राइडे को कॉरपोरेट लैब ने बरेली के धौराटांडा के युवक को कोरोना पॉजिटिव बताया जिसके बाद हेल्थ डिपार्टमेंट हड़कंप मच गया। आनन-फानन युवक के घर पर एंबुलेंस भेज दी गई। साथ ही मोबाइल यूनिट को भी काम पर लगा दिया गया लेकिन तभी एक घंटे बाद कॉरपोरेट लैब ने युवक की रिपोर्ट निगेटिव बताई। जिसके बाद डीएसओ डॉ। रंजन गौतम ने लैब के एक्जिक्यूटिव से गलत रिपोर्ट अपलोड करने के लिए जवाब तलब किया है।

गलती से कर दिया अपलोड

बरेली के धौराटांडा का रहने वाला रामपुर गार्डन के एक हॉस्पिटल में पथरी का ऑपरेशन कराने गया था। जहां ऑपरेशन से पहले 27 मई को उसका सैंपल कॉरपोरेट लैब में जांच के लिए भेजा गया। कॉरपोरेट लैब की ओर से करीब आठ बजे पोर्टल पर युवक की कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट शेयर की गई। साथ ही इसकी सूचना हेल्थ डिपार्टमेंट भी दी गई। जिस पर डीएसओ ने युवक को कोविड एल वन हॉस्पिटल में शिफ्ट करने के निर्देश दिए। इसी बीच करीब नौ बजे लैब ने पोर्टल पर दोबारा इस युवक की रिपोर्ट शेयर कर हेल्थ डिपार्टमेंट को सूचित किया कि गलती से युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव बताई गई, रिपोर्ट निगेटिव है।

धौराटांडा के रहने वाले युवक की जांच कॉरपोरेट लैब में हुई थी। रात करीब 8 बजे लैब ने युवक के पॉजिटिव होने की जानकारी पोर्टल पर शेयर की लेकिन एक घंटे बाद युवक को निगेटिव होने की सूचना दी। लैब के एक्जिक्यूटिव से जबाव मांगा गया है।

डॉ। रंजन गौतम, डीएसओ

Posted By: Inextlive