127-लोगों के डीएल बनाने का पूरा हुआ प्रोसेस

8-जून से शुरू हुआ परमानेंट डीएल का काम

07- हजार आवेदन हैं पेंडिंग

30- जून तक मान्य रहेंगे लर्निग डीएल

-लर्निंग लाइसेंस बनाने पर फिलहाल अभी नहीं आई कोई डेट

-ऑटो वालों को भी आरटीओ ने जारी किए जरूरी दिशा निर्देश

बरेली:

लॉकडाउन के कारण लंबे समय से बंद पड़ा ड्राइविंग लाइसेंस का काम मंडे को फिर से शुरू हो गया। हालांकि मंडे को सिर्फ परमानेंट डीएल आवेदकों को ही राहत मिलनी शुरू हुई। मार्च से रूके लाइसेंस आवेदकों को नया स्लॉट देकर आगे की प्रक्रिया पूरी कराना शुरू हो गई है। पहले दिन सिर्फ 127 आवेदकों ने डीएल बनवाने का प्रोसेस पूरा कराया।

स्लॉट के हिसाब से बुलाए आवेदक

परिवहन विभाग के अफसरों का कहना है कि मार्च से 30 जून तक आवेदकों के करीब सात हजार परमानेंट डीएल आवेदन हैं। इनकी स्लॉट डेट तय है। ऐसे सभी डीएल आवेदकों को री-शेडयूल करने का आदेश परिवहन आयुक्त ने दिए हैं। जिसमें आवेदकों की ओर से पहले ही बुक स्लॉट निरस्त होंगे इसका मैसेज मिलते ही नया स्लॉट बुक होगा। आवेदक के द्वारा पहले से जमा फीस ही मान्य होगी। यह प्रक्रिया पूरी करने के लिए आवेदकों को नई स्लॉट डेट पर आरटीओ ऑफिस आना होगा। जहां स्क्रूटनी, बायोमेट्रिक, टेस्ट की कार्रवाई पूरी करने के बाद लाइसेंस जारी होगा। वहीं लर्निग आवेदकों की वैधता बढ़ाकर 30 जून कर दी गई है।

ऑटो वालों को दिया निर्देश

आरटीओ की तरफ से ऑटो वालों को भी निर्देश जारी किया गया है। कि वह बगैर मास्क के न सवारी को बैठाएंगे और न खुद ही ऑटो चलाएंगे। अगर बगैर मास्क कोई ऑटो चलाते मिला या फिर पैसेंजर्स को ऑटो में बैठाएगा तो उसके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। वहीं ऑटो को भी समय-समय पर सेनेटाइज कराना भी जरूरी होगा।

Posted By: Inextlive