-कोरोना वायरस के डर से दरवाजे पर नहीं पहुंच रहे बिजली कर्मी

-पॉवर कॉरपोरेशन ने एक हफ्ते पहले ही चाइनीज मीटर के इस्तेमाल पर लगाई थी रोक

-15 हजार घरों के हटाए जाने हैं चाइनीज मीटर

-सभी चाइनीज मीटर हटाकर लगाए जाएंगे स्मार्ट मीटर

<-कोरोना वायरस के डर से दरवाजे पर नहीं पहुंच रहे बिजली कर्मी

-पॉवर कॉरपोरेशन ने एक हफ्ते पहले ही चाइनीज मीटर के इस्तेमाल पर लगाई थी रोक

-क्भ् हजार घरों के हटाए जाने हैं चाइनीज मीटर

-सभी चाइनीज मीटर हटाकर लगाए जाएंगे स्मार्ट मीटर

GORAKHPUR: GORAKHPUR: भारत चीन के बीच बढ़ते तनाव के कारण देशवासियों में व्याप्त गुस्से को लेकर पॉवर कारपोरेशन ने पिछले हफ्ते एक बड़ा कदम उठाते हुए घरों में लगे लगभग क्भ् हजार चाइनीज मीटर हटाने के निर्देश दिए थे। इसके बावजूद गोरखपुर में अब तक चाइनीज मीटर नहीं उतारे गए हैं। इसका मुख्य कारण कोरोना वायरस बताया जा रहा है। कोरोना वायरस की डर से कोई भी कर्मचारी मीटर उतारने को तैयार नहीं है। जबकि इसकी जिम्मेदारी एसडीओ और जेई को दी गई है। वहीं, ऑनलाइन बिलिंग सिस्टम के जरिए मीटर नंबर से कंज्यूमर्स के कनेक्शन और एरिया चिह्नित किए जाने हैं। उधर, सिटी में क्.7भ् लाख स्मार्ट मीटर लगाने का टारगेट मिला था। इसमें से सिर्फ ब्म् हजार स्मार्ट मीटर ही लग पाए हैं। अभी भी काफी मीटर लगाए जाने बाकी हैं। वहीं, कॉरपोरेशन ने कंज्यूमर्स से अपील भी की है कि वह जेई और एसडीओ को सूचना देकर चाइनीज मीटर हटवा सकते हैं।

लॉकडाउन में फंसा मीटर का काम

पॉवर कॉरपोरेशन के अभियंताओं के अनुसार लॉकडाउन की वजह से स्मार्ट मीटर लगाने का काम बंद हो गया था। इतना ही नहीं झटपट व निवेश मित्र पोर्टल पर पेंडिंग कनेक्शंस पर कॉरपोरेशन ने स्मार्ट बिजली मीटर बदलने पर रोक लगा दिया है। ऐसे में मीटर लगाने का कार्य अभी बंद चल रहा है। आदेश मिलने के बाद अभी फिलहाल पहले चरण में चाइनीज मीटर ही बदलने की प्रक्रिया चल रही है। तब तक ऑनलाइन बिलिंग सिस्टम के जरिए कंज्यूमर्स का नाम पता चिह्नित करने का कार्य चल रहा है।

इन मोहल्लों में लगे हैं चाइनीज मीटर

सिटी के कई मोहल्लों में कंज्यूमर्स चाइनीज मीटर का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसमें बसंतपुर, तुर्कमानपुर, पुराना गोरखपुर, मुफ्तीपुर, बेनीगंज, जाफरा बाजार, खोखा टोला, मिर्जापुर, गोडि़याना टोला समेत अन्य मोहल्लों में क्भ् हजार कनेक्शंस पर चाइनीज मीटर इस्तेमाल हो रहे हैं।

सिटी में लग चुके हैं ब्म् घरों पर स्मार्ट मीटर

गोरखपुर में क्.7भ् लाख घरों के पुराने मीटर हटाकर स्मार्ट मीटर लगाए जाने हैं। स्मार्ट मीटर लगाने की जिम्मेदारी एलएंडटी कंपनी को दी गई। बाद में अन्य फर्म को इस टारगेट का जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए गए लेकिन मात्र ब्म् हजार ही स्मार्ट मीटर लग सके। बाकी लॉकडाउन की वजह से फंस गया। पॉवर कॉरपोरेशन के निर्देश के बाद भी मीटर लगाने की रफ्तार में तेजी नहीं आ रही हैं।

ट्रांसमिशन से भी नहीं इस्तेमाल होंगे चाइनीज मीटर

यूपी पॉवर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन ने अपने बिजली घरों से चाइनीज उपकरणों के इस्तेमाल पर बैन करने के साथ ही अब किसी चाइनीज फर्म से काम नहीं करने का फैसला लिया है। ट्रांसमिशन निदेशक ऑपरेशन ने जोन के मुख्य अभियंताओं को मेल भेजकर निर्देश दिया है कि उपकेंद्रों के ऑपरेशन व मेंटिनेंस में चाइनीज उपकरणों को इस्तेमाल नहीं होगा। मुख्य अभियंता ट्रांसमिशन ई। पीएन उपाध्याय ने बताया कि जोन के किसी भी उपकेंद्र पर चाइनीज मीटर का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है।

वर्जन

सिटी में स्मार्ट मीटर लगाने का कार्य पहले से चल रहा था। लेकिन लॉकडाउन की वजह से पॉवर कॉरपोरेशन ने स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक लगा दिया था। अब चाइनीज मीटर हटाकर उनकी जगह पर स्मार्ट मीटर लगाने का आदेश आया है। यदि मीटर लगाने में लापरवाही पाई गई तो संबंधित के खिलाफ कार्यवाई होगी।

ई। यूसी वर्मा, एसई शहर

Posted By: Inextlive