-डीडीयू वीसी के नेतृत्व में आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने की दिशा में काम शुरू

- यूनिवर्सिटी में ऑनलाइन व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए उठाया गया कदम

GORAKHPUR: दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित ऑनलाइन रिसर्च स्कॉलर एग्जाम (रेट) 2020-21 की सफलता को देखते हुए होम बेस्ड परीक्षा पद्धत्ति का प्रयोग डीडीयू अन्य परीक्षाओं में भी करने की तैयारी कर रहा है। वीसी प्रो। राजेश सिंह ने कहा कि यूनिवर्सिटी प्रशासन भविष्य में रेग्युलर परीक्षाओं को ऑनलाइन मोड में कराने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए डीडीयू में आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने की दिशा में काम शुरू हो गया है।

डीडीयू में लगेंगे कम्प्यूटर टर्मिनल्स

यूनिवर्सिटी में 1500-2000 वाई-फाई युक्त कंप्यूटर टर्मिनल्स लगाए जाएंगे। डीडीयू से रिलेटेड 300 से ज्यादा महाविद्यालयों में 25,000 इंटरनेट सुविधा युक्त कंप्यूटर सिस्टम लगाए जाने की योजना है। यूनिवर्सिटी प्रशासन ने विमल महिला महाविद्यालय पादरी बाजार में आयोजित रेट परीक्षा में तकनीकी खराबी से सबक लेते हुए ऑनलाइन परीक्षा और ऑनलाइन पढ़ाई की गुणवत्ता को सुधारने के लिए डीडीयू कैम्पस और रिलेटेड महाविद्यालयों को तकनीकी रूप से मजबूत बनाने का डिसीजन लिया है। डीडीयू के विभिन्न विभागों में 1000-1500 कंप्यूटर उपकरण लगाने की दिशा में काम शुरू कर दिया है।

महाविद्यालय में वाई-फाई सुविधा अनिवार्य

अब महाविद्यालयों को अपने यहां कुल स्टूडेंट क्षमता के मुताबिक पांच फीसदी कंप्यूटर उपकरण और वाई-फाई सुविधा देना अनिवार्य होगा। महाविद्यालयों की संबद्धता के नियमों में भी स्टूडेंट्स के कुल नामांकन के कम से कम पांच फीसदी विद्यार्थी के लिए वाई-फाई युक्त कंप्यूटर सिस्टम को लगाना अनिवार्य बनाया जाएगा।

कंप्यूटर उपकरणों से लैस होंगे विवि के विभाग

ऑनलाइन परीक्षा को लेकर विवि की लाइब्रेरी, कंप्यूटर सेंटर में 100-100 कंप्यूटर उपकरण लगाए जाएंगे। वहीं दीनदयाल शोध पीठ और गुरू गोरक्षनाथ शोध पीठ में 25-25, संवाद भवन के कमेटी हॉल में 40 कंप्यूटर लगाए जाने की योजना पर तेजी से काम हो रहा है।