- यौमे आशूरा (दसवीं मोहर्रम) आज, मस्जिद व घरों में चला कर्बला के शहीदों का जिक्र

- हजरत इमाम हुसैन की याद में हुई फातिहा-नियाज

GORAKHPUR: जिले में यौमे आशूरा यानि कि दसवीं मोहर्रम अकीदत के साथ मनाया जाएगा। कोविड-19 संक्रमण होने की वजह से इस बार भी 10 मोहर्रम को निकलने वाले जुलूस नहीं नजर आएंगे। जहां मियां साहब के शाही जुलूस को पहले ही कैंसिल कर दिया गया है, वहीं रातों को रौशन होने वाली लाइन की ताजिया का भी दीदार नहीं होगा। सिर्फ घरों और इमामचौकों पर ही छोटी ताजिया रखी जाएंगी और इन्हें कर्बला के मैदान में दफन किया जाएगा। इसके लिए तैयारियां भी पूरी कर ली गई हैं। वहीं गुरुवार को नौवीं मोहर्रम के मौके पर अकीदतमंदों ने हजरत सैयदना इमाम हुसैन व कर्बला के शहीदों को खिराज-ए-अकीदत पेश किया। महफिलों में 'जिक्रे इमाम हुसैन' और इस्लाम के लिए दी गई उनकी कुर्बानी को याद कर लोग गमगीन हो गए। मस्जिद व घरों में जिक्रे शहीद-ए-कर्बला की महफिल में अहले बैत के फजाइल बयान हुए।

याद की गई अजीम कुर्बानी

नौवीं मोहर्रम को हजरत इमाम हुसैन और उनके साथियों की शहादत को याद करते हुए शाम को कुछ अकीदतमंदों ने घरों में छोटी-छोटी ताजिया रखकर फातिहा पढ़ी। शर्बत और मलीदा पर भी फातिहा पढ़ी गई। हजरत इमाम हुसैन और उनके साथियों के वसीले से दुआ मांगी गई। कई इलाकों में लोग मन्नत की छोटी-छोटी ताजिया खरीदते दिखे। रहमतनगर, छोटे काजीपुर, तुर्कमानपुर आदि मोहल्लों में बच्चे ऊंट की सवारी करते नजर आए। शुक्रवार को यौमे आशूरा (दसवीं मोहर्रम) है। जहां जुमा की तकरीरों में उलेमा-ए-किराम कर्बला की दास्तान बयान करेंगे, वहीं मस्जिद व घरों में कुरआन ख्वानी के साथ फातिहा होगी।

बयां की कर्बला की दास्तान

जिक्रे शहीद-ए-कर्बला महफिलों के तहत गुरुवार को मस्जिदों में जिक्र हुआ। मुकीम शाह जामा मस्जिद बुलाकीपुर में मौलाना मो। फिरोज निजामी व मौलाना रियाजुद्दीन कादरी ने कर्बला की दास्तां बयान की। बेलाल मस्जिद इमामबाड़ा अलहदादपुर में कारी शराफत हुसैन कादरी, मकतब इस्लामियात चिंगी शहीद इमामबाड़ा तुर्कमानपुर में मुफ्ती मो। अजहर शम्सी व कारी मो। अनस रजवी, गौसिया जामा मस्जिद छोटे काजीपुर में मौलाना मोहम्मद अहमद निजामी के साथ सुन्नी जामा मस्जिद सौदागार मोहल्ला, शाही मस्जिद बसंतपुर सराय, हुसैनी जामा मस्जिद बड़गो, जोहरा मस्जिद मौलवी चक बड़गो, सुन्नी बहादुरिया जामा मस्जिद रहमतनगर आदि मास्जिदों में जिक्रे शोहदा-ए-कर्बला हुआ। महफिलों के आखिर में सलातो सलाम का नजराना पेश किया गया। दुआ मांगी गई।

बॉक्स -

कर्बला के 72 शहीदों की याद में 72 जरूरतमंदों में बांटा राशन

कर्बला के 72 शहीदों की याद में इमामबाड़ा मुतवल्लियान कमेटी ने गुरुवार को जाफरा बाजार में 72 जरूरतमंदों में एक हफ्ते का राशन बांटा। कमेटी के जिलाध्यक्ष सैयद इरशाद अहमद ने कहा कि अबकी साल कमेटी नेक कामों के जरिए कर्बला के शहीदों की बारगाह में खिराज-ए-अकीदत पेश कर रही है। इस मौके पर सोहराब खान, शकील शाही, आफताब अहमद, फैजान करीम, मिन्नत गोरखपुरी, मो। अनीस एडवोकेट, वकील शाही, राजू सिद्दीकी आदि मौजूद रहे।