- सेशन लेट न हो इसलिए सीबीएसई और आईसीएसई स्कूलों में 11वीं क्लास के लिए जा रहे एडमिशन

- कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखकर ऑनलाइन ही पूरा किया जा रहा है एडमिशन प्रॉसेस

KANPUR: कोरोना वायरस का आउटब्रेक सिटी में तेजी से बढ़ा है। स्कूली बच्चे इसकी चपेट में न आए इस वजह से पहले से ही स्कूल और कॉलेज बंद चल रहे हैं। ऑनलाइन स्टडीज कराई जा रही है। बहुत जरूरी काम होने पर ही कहीं- कहीं स्कूलों में टीचर्स को बुलाया जा रहा है। लेकिन इन सबके बीच सेशन लेट न हो इसलिए ऑनलाइन एडमिशन की प्रक्रिया स्टार्ट की जा चुकी है। यदि आप सीबीएसई या आईसीएसई बोर्ड के 11वीं क्लास में एडमिशन लेना चाहते हैं तो देर न करें। दोनों बोर्ड की ओर से एडमिशन लेने का प्रॉसेस शुरू कर दिया गया है। फिलहाल आईसीएसई और सीबीएसई बोर्ड करीब 15000 स्टूडेंट्स को प्रोविजनल एडमिशन दे रहे हैं। सीबीएसई स्कूलों की ओर से स्टूडेंट्स का एप्टीट्यूड टेस्ट कराया जा रहा है, जबकि आईसीएसई में छात्रों को खुद ही अपनी स्ट्रीम चुनने का मौका दिया गया है।

ऑनलाइन ही दिया जा रहा एडमिशन

डॉ। वीरेंद्र स्वरूप एजूकेशन सेंटर किदवई नगर में प्रिंसिपल शर्मिला नंदी ने बताया कि स्टूडेंट्स को 11वीं क्लास में ऑनलाइन एडमिशन दिए जा रहे हैं और ऑनलाइन ही फीस जमा कराई जा रही है। वहीं सर पदमपत सिंहानिया एजूकेशन सेंटर कमला नगर की प्रिंसिपल भावना गुप्ता ने बताया कि स्टूडेंट्स को एप्टीट्यूड टेस्ट के आधार पर 11वीं क्लास में एडमिशन दिया जा रहा है। टेस्ट में मिले मा‌र्क्स के आधार पर उन्हें स्ट्रीम भी बताई जा रही है। उन्होंने बताया कि पिछले हफ्ते ही पेरेंट्स को फीस जमा करने की सूचना भेजी गई है। कई पेरेंट्स ने फीस जमा भी कर दी है।

आईसीएसई बोर्ड से एफिलिएशन वाले अधिकतर स्कूलों में 11वीं क्लास के एडमिशन ऑनलाइन कराए जा रहे हैं। जल्द ही सभी स्टूडेंट्स की पढ़ाई भी शुरू हो जाएगी।

- केवी ¨वसेंट, सिटी कोआर्डिनेटर आईसीएसई

फैक्ट फाइल

- 15 हजार स्टूडेंट्स को प्रोविजनल एडमिशन दिया जा रहा

- 100 कुल आईसीएसई के स्कूल है जिले में

- 150 है जिले में कुल सीबीएसई स्कूलों की संख्या

- 5000 स्टूडेंट एडमिशन लेते हैं आईसीएसई स्कूलों में 11वीं क्लास में

- 10000 स्टूडेंट सीबीएसई स्कूलों में 11वीं क्लास में एडमिशन लेते हैं