- गुरुवार को हॉस्पिटल में लगाई गई ट्रूनेट मशीन

LUCKNOW : अब राजधानी के बलरामपुर हॉस्पिटल में भी कोरोना जांच दो-तीन दिनों में शुरू हो सकती है। इसके लिए मुख्यमंत्री की ओर से हॉस्पिटल को विशेष मशीन गुरुवार को मुहैया कराई गई है। जिसके जरिये कोरोना जांच की जा सकेगी। रिपोर्ट भी 30 मिनट से 60 मिनट तक में प्राप्त हो जाएगी। इससे कोरोना जांच में तेजी लाई जा सकेगी। अभी तक बलरामपुर हॉस्पिटल से कोरोना जांच के लिए सभी नमूने केजीएमयू भेजे जाते हैं, जहां से जांच रिपोर्ट प्राप्त होने में 12 से 24 घंटे तक का वक्त लग जाता था। बलरामपुर हॉस्पिटल के सीएमएस डॉ। आरके गुप्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री की ओर से यह विशेष मशीन मुहैया कराई गई है, जिसे एक अलग कमरे में स्थापित कराया जा रहा है। इसके बाद जल्द ही ट्रॉयल करने के बाद कोरोना जांच शुरू कर दी जाएगी।

क्या है ट्रूनेट मशीन

यह एक बैटरी चालित मशीन है, जो सामान्य तौर पर टीबी रोगियों की जांच में प्रयुक्त होती रही है। सामान्य प्रशिक्षण हासिल करने के बाद इसे आसानी से चलाया जा सकता है। ट्रूनेट 4 वे मशीन में एक बार राउंड में 32 से 48 नमूनों की जांच की जा सकती है। आईसीएमआर ने इसे टेस्टिंग के बाद कोरोना जांच के लिए भी उपयुक्त माना, जिसके बाद अप्रैल के पहले सप्ताह में ही इस मशीन से कोरोना जांच कर सकने की अनुमति दे दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर यही मशीन सभी जिलों में मुहैया कराई जाएगी।

आरटीपीसीआर से दोगुना सस्ती जांच

आरटीपीसीआर से कोरोना जांच करने का खर्च जहां 4500 रुपये प्रति नमूना आता है, वहीं टू्रनेट मशीन से जांच करने में महज 1000 से 1500 रुपये ही प्रति नमूने पर खर्च होते हैं। मशीन मिलने के बाद तीन.चार स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षण के लिए भेजा गया है। जल्द ही जांच शुरू की जाएगी।

Posted By: Inextlive