4 अक्टूबर 2019 को संचालन शुरू

3 बार अब तक रोका जा चुका है संचालन

7 अगस्त से फिर शुरू हो रहा है संचालन

30 दिन पहले एडवांस बुकिंग की सुविधा

- अधिकतम 30 फीसद महंगा हो सकेगा डायनामिक फेयर

LUCKNOW:

देश की पहली कारपोरेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस में मुसाफिरों को चेयर और एग्जीक्यूटिव क्लास में 40 फीसद सीटें इकोनॉमी फेयर पर मिलेंगी। वहीं अब तेजस का अधिकतम किराया सामान्य से 30 फीसद से अधिक नहीं होगा। 7 अगस्त से दोबारा शुरू हो रही तेजस एक्सप्रेस में यात्रियों को पहले की तरह खानपान की सभी सुविधाएं मिलेंगी। बुधवार को भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) ने तेजस एक्सप्रेस के संचालन की गाइड लाइन जारी कर दी है।

30 दिन पहले बुकिंग

तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए आईआरसीटीसी 30 दिन पहले एडवांस टिकट बुकिंग की सुविधा देगा। साथ ही, यात्रियों के ट्रेन में सफर करते समय उनके घर पर चोरी हो जाने की दशा में बीमा कवर की सुविधा भी पूर्व की तरह रहेगा। आईआरसीटीसी के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक सप्ताह में चार दिन शनिवार, रविवार, सोमवार और शुक्रवार को चलने वाली तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए ऑन बोर्ड बुकिंग की सुविधा लखनऊ जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर छह पर उपलब्ध होगी।

सामान घर से लाने की सुविधा

यात्रियों का सामान उनके घर से लेकर तेजस एक्सप्रेस तक पहुंचाने और फिर नई दिल्ली में उसकी डिलीवर दर्ज पते पर करने की योजना बनाई गई है। जिसे संचालन शुरू होने के बाद समीक्षा कर लागू किया जाएगा। तेजस की केवल 50 फीसद सीटों की बुकिंग करने की बाध्यता को हटा लिया गया है। अब तेजस की सभी सीटों की बुकिंग हो सकेगी। कोरोना को देखते हुए आईआरसीटीसी अपने यात्रियों को सेनेटाइजर, ग्लब्स व मास्क भी देगा।

तीन बार थम चुके हैं पहिए

तेजस एक्सप्रेस का संचालन चार अक्टूबर 2019 को शुरू हुआ था। यह ट्रेन 18 मार्च 2020 तक खूब दौड़ी, लेकिन कोरोना की पहली लहर के कारण लगे लॉकडाउन में 19 मार्च 2020 को तेजस का संचालन रोक दिया गया। करीब सात महीने बाद 17 अक्टूबर 2020 को तेजस फिर से दौड़ने लगी, लेकिन दीपावली के करीब यात्री न मिलने पर तीन नवंबर 2020 को फिर से बंद कर दिया गया। तेजस सप्ताह में छह की जगह केवल चार दिन के लिए 14 फरवरी को तेजस फिर से चली। कोरोना के कारण इस ट्रेन को फिर से चार अप्रैल को बंद कर दिया गया।