प्राइवेट अस्पताल में सुविधा लेने के लिए खर्च करने होंगे पैसे

सरकारी अस्पतालों में लगेगी निशुल्क वैक्सीन

Meerut। जिले में आज से तीसरे चरण का कोरोना वैक्सीनेशन शुरू होने जा रहा है। जिले में तीन अस्पतालों में इसकी व्यवस्था की गई है। निशुल्क टीकाकरण के लिए लाला लाजपत राय मेडिकल कॉलेज में और जिला अस्पताल को सेंटर बनाया गया है, जबकि प्राइवेट सुविधा के लिए हापुड़ रोड स्थित संतोष अस्तपाल को चिंहित किया गया है। सीएमओ डॉ। अखिलेश मोहन ने बताया कि सोमवार सुबह 10:00 बजे सभी सेंटर्स पर शुभारंभ किया जाएगा।

इनका होगा टीकाकरण

जिले में ऐसे सभी लोग जिनकी उम्र 60 साल व इससे अधिक है। इसके अलावा 45 से 59 साल के ऐसे लोगों को इसमें शामिल किया जा रहा है जिन्हें दूसरी गंभीर बीमारियां हैं।

ऐसे होगा टीकाकरण

डीआईओ डॉ। प्रवीण गौतम ने बताया कि लाभार्थी को टीकाकरण के लिए आधार कार्ड, वोटर कार्ड या पैन कार्ड या कोई अन्य कोई फोटो आईडी जिसमें डेट ऑफ बर्थ भी अंकित हो, सेंटर पर लानी होगी। बीमारियों से ग्रसित लाभार्थी को रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर के सíटफिकेट साथ लाना होगा। इसके अलावा एट द स्पॉट या ऑनलाइन आरोग्य सेतु पर लाभार्थी टीकाकरण करवा सकते हैं। इसके लिए सोमवार सुबह 9 बजे लिंक जारी होगा। डीआईओ ने बताया कि प्राइवेट फैसिलिटी पर टीकाकरण के लिए ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन अभी शुरू नहीं किए गए हैं। यहां सिर्फ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ही मान्य होंगे।

फैक्ट फाइल

सांसद, डीएम और सीएमओ सुबह 10.00 बजे मेडिकल कॉलेज में उद्घाटन करेंगे।

पीएल शर्मा जिला अस्पताल में आईएमए अध्यक्ष व मेरठ नìसग होम एसोसिएशन अध्यक्ष उद्घाटन करेंगे।

संतोष नìसग होम में पूर्व मंत्री डॉ। यशवंत और पीडियाट्रिक डॉ। अमित उपाध्याय उद्घाटन करेंगे।

सरकारी स्थानों पर यह टीकाकरण निशुल्क है। यहां लाभार्थी को कोविशील्ड ब्रांड लगाया जाएगा।

संतोष नìसग होम में 250 प्रति लाभार्थी प्रति डोज चार्ज देना होगा। यहां लाभार्थी को कोवैक्सीन लगाई जाएगी। 15 हजार रुपये की वैक्सीन स्वास्थ्य विभाग ने यहां दे दी है।

छूटे हुए लोग भी हो सकते हैं शामिल

तीसरे चरण में शासन के निर्देशों पर ऐसे लोगों को भी शामिल किया जाएगा जो पहले दो चरणों में छूट गए हैं और इनका रजिस्ट्रेशन भी अभी तक नहीं हो पाया है। इसके लिए ऐसे लोगों को अपने वरिष्ठ अधिकारी से प्रमाण पत्र लेकर आना होगा जिसमें हेल्थ वर्कर या फ्रंटलाइन वर्कर होने की पुष्टि होती है।

होगा सर्वे

डीआईओ ने बताया कि जिले में तीसरे चरण के लिए फिलहाल 5 हजार लोगों के वैक्सीनेशन के लिए पर्याप्त डोज है। जबकि 40 हजार से ज्यादा कोविशील्ड वैक्सीन मिलनी बाकी है। उन्होंने बताया कि पूर्व में हुए सर्वे के आधार पर 152403 लाख लोग तकरीबन 60 साल के चिंहित हैं। जबकि थॉयराइड, हार्ट, किडनी, हायपरटेंश, डायबिटीज को लेकर 7 लाख 58 हजार परिवारों का सर्वे करवाया गया था। इसमें 33 हजार लोग इन बीमारियों से ग्रस्त मिले थे। अब शासन ने 20 बीमारियों को शामिल किया है। इसके लिए विभाग की ओर से दोबारा सर्वे करवाया जाएगा।

सोमवार से तीसरा चरण आम लोगों के लिए शुरू हो रहा है। इसके तहत सभी तैयारियां विभाग की ओर से कर ली गई है। हर कैपेसिटी पर 100 लोगों का टारगेट रखा गया है।

डॉ। अखिलेश मोहन, सीएमओ, मेरठ