लिसाड़ी गेट में महिला को मार दी गई थी गोली, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा, एक आरोपी पुलिस हिरासत में

पुलिस के हाथ लगे घटना से जुड़े वीडियो, एसपी सिटी ने विस्तृत जांच कर कार्रवाई के निर्देश

Meerut। लिसाड़ी गेट के समर गार्डन में शराब पीकर हुड़दंग मचाने से रोकने पर महिला को गोली मारने वाला प्रकरण पुलिस की प्रथम दृष्टया जांच में संदिग्ध पाया गया है। पुलिस को कुछ वीडियो भी मिली है, जिनकी जांच पड़ताल की जा रही है। पुलिस का कहना है कि प्लान करके किया गया यह पूरा प्रकरण है, जिसकी जांच की जा रही है। पुलिस ने हालांकि आरोप के आधार पर इकबाल को हिरासत में ले लिया है। जिससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही इस मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

क्या था मामला

लिसाड़ी गेट के समर गार्डन कालोनी में कौशर अपने बेटे फिरोज और साहिल के साथ रहती हैं। उनके पड़ोस में तांत्रिक रहता है। आरोप है कि तांत्रिक इकबाल के पास बाहरी युवकों का भी आना-जाना लगा रहता है। तांत्रिक बीते दिनों से रोजाना हुड़दंग कर रहा था। शनिवार रात कौशर ने विरोध किया तो इकबाल ने मारपीट करनी शुरू करा दी। बेटे फिरोज और साहिल ने रोकने की कोशिश की तो उन पर भी लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। आरोपियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग भी की, जिसमें कौशर को गोली लग गई थी। जिसको उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया था।

इकबाल हिरासत में

इस मामले में कौशर के परिजनों ने लिसाड़ी गेट थाने में इकबाल, इकबाल का भाई रिजवान, दो साले सलमान और वहाब के खिलाफ तहरीर दी है। तहरीर के आधार पर पुलिस ने पूरे मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी। इकबाल को लिसाड़ी गेट पुलिस ने हिरासत में भी ले लिया। महिला कौशर के परिजन भी लिसाड़ी गेट थाने पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। कौशर के बेटों ने बताया कि इकबाल दारू के लिए पैसे मांगता था, नहीं देने पर गाली देना और जान से मारने की धमकी देता था। लिसाड़ी गेट इंस्पेक्टर प्रशांत कपिल का कहना है कि पूरा मामला संदिग्ध लग रहा है। विस्तृत विवेचना की जा रही है। इस घटना से जुड़ी हुई कुछ वीडियो भी मिले हैं। जिनकी जांच की जा रही है।

आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। लिसाड़ी गेट इंस्पेक्टर को विस्तृत जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

विनीत भटनागर, एसपी सिटी, मेरठ