जद में आते ही सिटी कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में बजेगी बीप

देशभर के अपराधियों का हुलिया व ब्योरा सेंटर में हो रहा दर्ज

पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसी भी जगह अपराधियों की मौजूदगी या अपराध करने पर मुसीबत में डाल सकती है। उनकी हर हरकत और वारदात स्मार्ट कैमरे की जद में होगी। इसके लिए 128 करोड़ की लागत से गंगा घाट से लेकर शहर के चप्पे-चप्पे पर तीन हजार स्मार्ट कैमरे लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। भविष्य में कोई भी आपराधिक घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद होगी। सिटी कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से जुड़े ये कैमरे अपराधियों को पहचान भी सकेंगे। कैमरों के सामने से अपराधियों के गुजरते ही सिटी कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में बजने वाली बीप से पुलिस अलर्ट होगी। हाइटेक सीसी कैमरे रात के अंधेरे में भी साफ तस्वीरें ले सकेंगे।

फेस डिटेक्टर कैमरा सिस्टम

अपराधियों की लोकेशन जानने में फेस डिटेक्टर कैमरा सिस्टम काम करेगा। इसके माध्यम से सिटी कमांड सेंटर में दर्ज डाटा के आधार पर उनकी पहचान होगी। स्मार्ट पुलिसिंग के लिए देशभर के अपराधियों का हुलिया और प्रोफाइल दर्ज हो रहा है।

भीड़ वाले स्थानों पर कैमरे

घनी आबादी, भीड़ वाले स्थान, हाइवे व प्रवेश मार्ग सहित 720 जगह 3000 कैमरे लगाए जा रहे हैं। वहीं पुलिस अधिकारियों के स्मार्टफोन में थर्ड आई सॉफ्टवेयर होगा। जो स्मार्ट सिटी कमांड कंट्रोल और स्टेट कंट्रोल सेंटर से जुड़ेगा। इससे यातायात नियमों के उल्लंघन या अन्य अपराध कर भागे लोगों की पहचान हो सकेगी। झूठी सूचनाओं व अफवाह की त्वरित तस्दीक संग पुलिस की घटनास्थल पर तुरंत पहुंच होगी।

बहुत जल्द स्मार्ट पुलिसिंग व्यवस्था

जल्द ही स्मार्ट पुलिसिंग व्यवस्था शुरू होगी। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत पुलिस को आधुनिक साधनों से लैस और जवानों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रोजेक्ट 128 करोड़ का है। कई चरणों में कैमरे लगेंगे। पहले फेज में गंगा किनारे 80 घाटों, वरुणा रिवर फ्रंट व दूसरे चरण में वारदात के लिहाज से चिन्हित ठिकानों पर लगेंगे। निजी कैमरे भी सिस्टम जुड़ेंगे। हाईस्पीड इंटरनेट को ऑप्टिकल फाइबर बिछ रहा है।

जो सिस्टम तैयार हो रहा उससे अपराधी नहीं बचेंगे। सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से सिटी कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में पहचान तुरंत हो जाएगी। कैमरे से कंट्रोल सेंटर में फोटो पहुंचते ही पूरा ब्योरा सामने होगा।

- गौरांग राठी, नगर आयुक्त, वाराणसी

720

जगह लगेंगे स्मार्ट सीसीटीवी कैमरे

128

करोड़ है स्मार्ट पुलिसिंग का बजट

80

घाटों-वरुणा रिवर फ्रंट पर पहले चरण में