-सितंबर माह के पहले सप्ताह में ही हजारों लोगों ने तोड़ा टै्रफिक रूल्स

ट्रैफिक डिपार्टमेंट ने वसूला भारी-भरकम जुर्माना

हर रोज बनारस में हजारों लोगों का चालान कट रहा बावजूद इसके नियम तोड़ने वालों की संख्या कम नहीं हो रही है. इस बात अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि सितंबर माह के पहले सप्ताह में ही 9163 लोगों ने ट्रैफिक रूल्स तोड़ा और इनसे 7670300 रुपये जुर्माना वसूला गया. इसमें सबसे अधिक बगैर हेलमेट के चलने वालों के चालान कटे हैं. छह दिन में करीब छह हजार से अधिक बाइक-स्कूटी सवार बगैर हेलमेट के ड्राइव करते हुए पाए गए और उनका करीब 41 हजार से अधिक चालान भी कटा. यही नहीं, बिना पार्किंग में वाहन खड़ा करने वालों का भी चालान धुआंधार कटा. करीब छह सौ गाडि़यां जहां-तहां खड़ा करने वालों से ट्रैफिक पुलिस ने चार लाख 35 हजार जुर्माना वसूल किया है.

छह दिनों में ऐसे कटा चालान

वजह -चालान संख्या-शमन शुल्क

बगैर हेलमेट-6367-4169000

गलत पार्किंग-694-435000

रोक के बावजूद ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर-314-314000

अदर आफेंस-291-1461000

बिना नंबर व फर्जी नंबर प्लेट वाहनों पर-214-66800

बगैर लाइसेंस के ड्राइविंग पर-190-475000

बगैर इंश्योरेंस ड्राइविंग-166-332000

सिग्नल तोड़ने पर-142-44400

बाइक पर तीन सवारी-102-31000

फिटनेस नहीं होने पर-97-9700

-रजिस्ट्रेशन फेल पर-66-6600

चालकों द्वारा सिग्नल का यूज नहीं करने पर-57-17100

फेल मिला लाइसेंस-44-22500

ड्राइविंग के दौरान ईयरफोन व मोबाइल यूज करने पर-39-

19500

बगैर सीट बेल्ट के ड्राइविंग-29-15500

प्रदूषण सर्टिफिकेट प्रूफ नहीं करने पर-20-50000

खतरनाक ड्राइविंग पर-17-42500

बगैर परमिट के ड्राइविंग पर-13-1300

पब्लिक प्लेस के बीच खतरनाक पार्किंग करने पर-13-6500

प्रेशर हार्न व हूटर लगे होने पर-11-27500

विदाउट सीट बेल्ट-9-4500

जांच के दौरान कागजात न दिखाने पर-9-900

ड्राइविंग के दौरान मोबाइल पर बात करने पर-8-4000

हूटर बजाने पर-7-7000

77

चालान हुए इंश्यारेंस पेपर नहीं होने पर

7700

जुर्माना

74

चालान हुए जांच के दौरान डीएल नहीं होने पर

7400

39

चालान हुए पाल्यूशन सर्टिफिकेट फेल मिलने पर

3900

16

चालान हुए बगैर इंश्यारेंस के ड्राइविंग

32000

जुर्माना

ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर जुर्माना वसूल किया जा रहा है. रूल्स तोड़ने वालों पर यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी. पब्लिक से अपील है कि नियमों के अनुसार चले और जुर्माना से बचें.

श्रवण कुमार सिंह, एसपी ट्रैफिक