features@inext.co.in
KANPUR: हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में आए हुए वरुण धवन को महज सात साल हुए हैं पर उन्होंने यहां अपने काम से अपनी इमेज एक ऐसे एक्टर की बना ली है, जिसको लेकर फिल्ममेकर्स की सोच होती है कि उनपर पैसा लगाने पर उन्हें किसी तरह का नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा। लगातार हिट मूवीज देकर वरुण ने उनके इस भरोसे को टूटने भी नहीं दिया, पर अब उनकी लेटेस्ट मूवी 'कलंक' के फ्लॉप होने से चीजें थोड़ी बदलती हुई नजर आ रही हैं।

जमकर बहाया गया था पैसा
'कलंक' मूवी बनाने का सपना करण जौहर के फादर यश जौहर ने देखा था, जिसको करण ने पूरा किया। करण ने 'कलंक' को भव्य बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी और इसपर जमकर रुपए खर्च किए थे। पर जब यह मूवी बड़े पर्दे पर आई तो ऑडियंस ने इससे दूरी बना ली। मूवी क्रिटिक्स से भी इसे अच्छे रिव्यूज नहीं मिले थे। 'कलंक' ने बॉक्स ऑफिस पर शानदार ओपनिंग दर्ज कराई थी पर यह उसे भुना नहीं सकी और फ्लॉप हो गई.

यह मूवी डिजर्व करती थी फ्लॉप होना
इस मूवी के पिटने पर वरुण ने मीडिया से खुलकर बात की। उनका कहना है कि यह मूवी ऑडियंस को पसंद नहीं आई इसलिए यह फ्लॉप होना डिजर्व करती थी। वरुण के मुताबिक, 'कलंक' के फेलियर से मुझे जबरदस्त धक्का लगा है। इस मूवी को ऑडियंस ने पसंद नहीं किया और यह फ्लॉप हो गई। बहुत नॉर्मल सी बात है कि अगर ऑडियंस को मूवी पसंद नहीं आएगी तो वह बॉक्स ऑफिस पर अच्छा परफॉर्म नहीं करेगी। 'कलंक' से बहुत कुछ सीखा है और आगे भी सीखता रहूंगा।

फेलियर भूलकर आगे बढऩा है
वरुण ने आगे कहा, 'कई बार ऐसा होता है कि चीजें उस तरह से नहीं हो पातीं जैसा आप चाहते हैं। मेरे साथ यह पहली बार हुआ है कि मेरी मूवी ऑडियंस ने इस तरह से नकारी हो। मैं अभी भी इस बात को एक्सेप्ट करने की कोशिश कर रहा हूं। मैं मानता हूं कि 'कलंक' के साथ जो हुआ, उससे मुझपर असर हुआ है और मैं उससे काफी कुछ सीख रहा हूं। अब मैं 'कलंक' से आगे बढ़कर 'स्ट्रीट डांसर' और 'कुली नं.1' के सीक्वल को लेकर एक्साइटेड हूं।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk