अगर किसी भी व्यक्ति की स्मरण शक्ति कमजोर है या वह एकाग्र होकर अध्ययन नहीं कर पाता है या अपने काम में एकाग्र नहीं रहता है तो इसके लिए हम वास्तु और ज्योतिष के कुछ आसान उपायों को अपनाकर अपनी स्मरण शक्ति बढ़ा सकते हैं और एकाग्रता भी।

आइए जानते हैं ज्योतिषाचार्य पं राजीव शर्मा जी से उन उपायों के बारे में, जिस हर व्यक्ति आसानी से कर सकता है।

1. अध्ययन कक्ष में माँ सरस्वती का छोटा सा चित्र लगाएं, पढ़ने के लिए बैठने से पूर्व उसके सामने कपूर का दीपक जलाकर, हाथ जोड़कर प्रार्थना करें।

2. विद्यार्थी सुबह उठते ही “ऊँ ऐं हृीं सरस्वत्यै नम:’’ का 21 बार जाप करें।

3. जो विद्यार्थी पढ़ते समय शीघ्र सोने लगते हैं अथवा मन भटकने के कारण अध्ययन नहीं कर पाते, उन्हें अध्ययन कक्ष में हरे रंग के परदे लगाने चाहिए।

4. जिन विद्यार्थियों की स्मरण शक्ति कमजोर हो, उन्हें तुलसी के 11 पत्तों का रस मिश्री के साथ नियमित रूप से देना चाहिए।

5. कम्प्यूटर आग्नेय कोंण में रखें।

6. पढ़ते समय विद्यार्थी का मुँह पूर्व अथवा उत्तर दिशा में होना चाहिए।

7. विद्यार्थी अपनी मेज पर ग्लोब रखें और दिन में तीन बार इसे घुमाएं।

8. एक थाली में केसर में गंगाजल मिलाकर स्याही से स्वास्तिक बनाकर उस पर नैवेद्य चढ़ाकर, सामने शुद्ध घी का दीपक जलाएं। माँ सरस्वती की स्तुति करें, इसके बाद थाली में जल मिलकार गिलास में डालकर पी लें, ऐसा करने से शिक्षा के क्षेत्र में पूर्ण   उन्नति होती है।

9. स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए सुबह खाली पेट तुलसी के पांच पत्ते व एक-आध काली मिर्च चबाकर ऊपर से एक गिलास पानी पीने से भी स्मरण शक्ति का विकास होता है, रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ती है।

राशि के अनुसार करें ये आसान उपाय, आपके बच्चे की पढ़ाई में बढ़ेगी रूचि

घर के इन हिस्सों में वास्तु दोष से रिश्ते होते हैं प्रभावित, मेहनत के बाद भी नहीं मिलती पहचान

Posted By: Kartikeya Tiwari

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk