lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: यूपी पुलिस ने प्रदेश में शांतिपूर्वक चुनाव संपन्न कराने के लिए करीब 900 कंपनी सेंट्रल पैरा मिलेट्री फोर्स उपलब्ध कराने की मांग की है । साथ ही पीएसी, होमगार्ड और पीआरडी का भी पूरा इस्तेमाल करने की योजना बनाई जा रही है। प्रवासी भारतीय दिवस के आयोजन की वजह से मुख्य सचिव डॉक्टर अनूप चंद्र पांडेय और डीजीपी ओपी सिंह ने वाराणसी से वीडियो कांफ्रेंसिंग में हिस्सा लिया जबकि राजधानी से एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार समेत डीजीपी मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे ।

बड़े पैमाने पर होंगे तबादले
सूत्रों की मानें तो आयोग के निर्देश पर पुलिस महकमे में भी बड़े पैमाने पर तबादले किए जाने हैं । लंबे समय से एक जिले अथवा रेंज में जमा पुलिसकर्मियों की सूची बननी शुरू हो गयी है । पुराने चुनाव के मामलों को भी बटोरा जा रहा है ताकि इस बाबत एहतियात बरती जा सकी । संवेदनशील व अतिसंवेदनशील क्षेत्रों को चिह्नित उनकी मैपिंग कराई जा रही है । पुलिस अधिकारियों ने आयोग को बताया कि चुनाव के मद्देनजर डीजीपी मुख्यालय का चुनाव सेल भी एक्टिव किया जा चुका है । साथ ही जिला स्तर पर भी निरोधात्मक कार्रवाई करने के निर्देश पुलिस कप्तानों को जारी किये जा चुके हैं ताकि चुनाव के दौरान अराजक तत्व गड़बड़ी न फैला सकें। डीजीपी मुख्यालय से इसकी लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है । खासकर अवैध शराब, अवैध शस्त्र फैक्ट्री, वांछित अपराधियों की धरपकड़ व शस्त्रों के सत्यापन की कार्यवाही की जा रही है । इसके अलावा लाइसेंसी शस्त्रधारकों से कारतूसों का भी पूरा हिसाब लेने की तैयारी है । कारतूसों का ब्योरा न दे पाने वाले शस्त्र धारकों पर कानूनी कार्रवाई भी होगी ।

चुनाव में उड़ाई फेक न्यूज तो जेल जाना तय

विधानसभा चुनाव : चुनाव आयोग ने लगार्इ एग्जिट पोल पर राेक, जानें कब से कब तक रहेगा बैन

National News inextlive from India News Desk